स्वामी प्रसाद मौर्य बोले – रामचरितमानस में सब बकवास, इसे बैन कर देना चाहिए

0 27

लखनऊ:रामचरितमानस को लेकर बिहार के शिक्षामंत्री द्वारा दिए गए विवादित के बाद अब यूपी में सपा नेता और पूर्व मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य ने भी रामचरितमानस को लेकर अनाप-शनाप बयान दे डाला। स्वामी प्रसाद मौर्य ने कहा, धर्म कोई भी हो, हम उसका सम्मान करते हैं, लेकिन धर्म के नाम पर जाति और वर्ग विशेष को अपमानित करने का काम किया गया, उस पर हमे आपत्ति है। एक मीडिया चैनल को दिए गए इंटरव्यू के दौरान समाजवादी पार्टी के नेता स्वामी प्रसाद मौर्य ने कहा, कई करोड़ लोग रामचरितमानस को नहीं पढ़ते, सब बकवास है। यह तुलसीदास ने अपनी खुशी के लिए लिखा है।

स्वामी प्रसाद मौर्य रामायण को बैन करने की बात कह डाली। उन्होंने कहा रामायण में कुछ विवादित अंश हैं, जिन्हें बाहर कर देना चाहिए, उन पर उन्हें आपित्त है। एसपी नेता की विवादित बयानबाजी यहीं पर नहीं रुकी। उन्होंने कहा, किसी भी धर्म में किसी को भी गाली देने का कोई अधिकार नहीं है। उन्होंने तुलसीदास की उस चौपाई पर भी आपत्ति जताई जिस पर सपा नेता ने कहा, तुलसीदास शुद्रो को अधम जाति का होने का सर्टिफिकेट दे रहे हैं। सपा नेता स्वामी मौर्य आगे बोले, शूद्र कितना भी ज्ञानी, विद्वान या फिर ज्ञाता हो, उसका सम्मान मत करिए। क्या यही धर्म है? अगर यही धर्म है तो ऐसे धर्म को मैं नमस्कार करता हूं। ऐसे धर्म का सत्यानाश हो जाए जो हमारा सत्यानाश चाहता हो।

धीरेंद्र शास्त्री पर स्वामी प्रसाद मौर्य का हमला

श्रद्धालु से मिले बिना उसके बारे में सबकुछ बता देने वाले बागेश्वर धाम के धीरेन्द्र शास्त्री पर भी सपा नेता स्वामी प्रसाद मौर्य ने जोरदार हमला बोला। उन्होंने कहा, इस देश दुर्भाग्य है कि धर्म के ठेकेदार ही धर्म को नीलम कर रहे हैं। बागेश्वर धाम के पीठाधीश्वर धीरेंद्र शास्त्री पर टिप्पणी करते हुए स्वामी प्रसाद मौर्य ने कहा, तमाम समाज सुधारकों के प्रयास से देश आज तरक्की के रास्ते पर चल पड़ा है, लेकिन ऐसी दकियानूसी सोच वाले बाबा समाज में रूढि़वादी परंपराओं, ढकोसला, अंधविश्वास पैदा करने की कोशिश कर रहे हैं।

स्वामी प्रसाद मौर्य ने आगे कहा, जब सभी बीमारियों की दवा बाबा के पास है तो सरकार फालतू में मेडिकल कॉलेज, अस्पताल चला रही है। सभी लोग जाकर बाबा के यहां दवा ले लें। स्वामी प्रसाद मौर्य बोले, धीरेंद्र शास्त्री सनातन धर्म का प्रचार नहीं कर रहे बल्कि सनातन धर्म को दफना रहे हैं। उन्होंने कहा, कि धीरेंद्र शास्त्री ढोंग फैला रहे हैं। ऐसे लोगों के खिलाफ कार्रवाई करनी चाहिए। ऐसे लोगों को जेल में डाल देना चाहिए जो भारत के संविधान की भावनाओं को आहत करते हों।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया Vnation के Facebook पेज को LikeTwitter पर Follow करना न भूलें...
Leave A Reply

Your email address will not be published.