जेवर एयरपोर्ट का शिलान्यास कर बोले पीएम मोदी, हजारों लोगों को इससे मिलेगा लाभ

0 407

नई दिल्ली प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उत्तर प्रदेश के जेवर में नोएडा अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे का शिलान्यास किया. इस मौके पर संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि आप सभी को, देश के सभी लोगों को, उत्तर प्रदेश के भाई-बहनों को नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट की बहुत-बहुत बधाई. इसका बहुत बड़ा लाभ दिल्ली-एनसीआर और पश्चिमी उत्तर प्रदेश के करोड़ों लोगों को होगा.

21वीं सदी का भारत एक से बढ़कर एक आधुनिक इंफ्रास्ट्रक्चर का निर्माण कर रहा है. नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट कनेक्टिविटी की दृष्टि से भी एक बेहतरीन मॉडल बनेगा. यहां आने जाने के लिए टैक्सी से लेकर मेट्रो और रेल तक हर तरह की कनेक्टिविटी होगी. मोदी ने कहा कि आज देश में जितनी तेजी से एविएशन सेक्टर में वृद्धि हो रही है, जिस तेजी से भारतीय कंपनियां सैकड़ों नए विमानों को खरीद रही हैं, उनके लिए भी नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट की बहुत बड़ी भूमिका होगी.

प्रधानमंत्री ने कहा कि अब तो दिल्ली मुंबई एक्सप्रेस वे भी तैयार होने वाला है. उससे भी अनेकों शहरों तक पहुंचना आसान हो जाएगा. इतना ही नहीं यहां से डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडोर के लिए भी सीधी कनेक्टिविटी होगी.

पीएम ने कहा कि हवाई अड्डे के निर्माण के दौरान रोजगार के हजारों अवसर बनते हैं. हवाई अड्डे को सुचारु रूप से चलाने के लिए भी हजारों लोगों की आवश्यकता होती है. पश्चिमी यूपी के हजारों लोगों को ये एयरपोर्ट नए रोजगार भी देगा.

पीएम मोदी ने कहा कि आजादी के 7 दशक बाद, पहली बार उत्तर प्रदेश को वो मिलना शुरू हुआ है, जिसका वो हमेशा से हकदार रहा है. डबल इंजन की सरकार के प्रयासों से, आज उत्तर प्रदेश देश के सबसे कनेक्टेड क्षेत्र में परिवर्तित हो रहा है.

पीएम मोदी ने कहा कि पश्चिमी उत्तर प्रदेश में भी लाखों करोड़ रुपये के प्रोजेक्ट्स पर काम चल रहा है. रैपिड रेल कॉरिडोर हो, एक्सप्रेस वे हो, मेट्रो कनेक्टिविटी हो, पूर्वी और पश्चिमी समंदर से उत्तर प्रदेश को जोड़ने वाले डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडोर हों. ये आधुनिक होते उत्तर प्रदेश की नई पहचान बन रहे हैं.

पहले की सरकारों ने जिस उत्तर प्रदेश को अभाव और अंधकार में बनाए रखा, पहले की सरकारों ने जिस उत्तर प्रदेश को हमेशा झूठे सपने दिखाए, वही उत्तर प्रदेश आज राष्ट्रीय ही नहीं, अंतरराष्ट्रीय छाप छोड़ रहा है. आज देश और दुनिया के निवेशक कहते हैं-उत्तर प्रदेश यानी-उत्तम सुविधा, निरंतर निवेश। यूपी की इसी अंतरराष्ट्रीय पहचान को, यूपी की नई इंटरनेशनल एयर कनेक्टिविटी नए आयाम दे रही है.

पीएम मोदी ने कहा कि 2 दशक पहले यूपी की भाजपा सरकार ने जेवर एयरपोर्ट प्रोजेक्ट का सपना देखा था. उसके बाद ये एयरपोर्ट अनेक सालों तक दिल्ली और लखनऊ में जो सरकारें रहीं, उनकी खींचतान में उलझा रहा. यूपी में पहले जो सरकार थी, उसने तो बकायदा चिठ्ठी लिखकर तब की केंद्र सरकार को कह दिया था कि इस प्रोजेक्ट को बंद कर दिया जाए, लेकिन आज डबल इंजन सरकार की ताकत से हम उसी एयरपोर्ट के शिलान्यास के साक्षी बन रहे हैं.

प्रधानमंत्री ने कहा कि इंफ्रास्ट्रक्चर हमारे लिए राजनीति का नहीं, बल्कि राष्ट्रनीति का हिस्सा है. हम सुनिश्चित कर रहे हैं कि प्रोजेक्ट्स अटके नहीं, लटके नहीं, भटके नहीं. हम ये सुनिश्चित करने का प्रयास करते हैं कि तय समय के भीतर ही इंफ्रास्ट्रक्चर का काम पूरा किया जाए.

पीएम मोदी ने कहा कि पहले किसानों की जमीनों को लेकर जिस तरह की गड़बड़ियां होती थी, वो भी प्रोजेक्ट की देरी में बहुत बड़ा रोड़ा बन जाती थी. यहीं आस-पास पहले की सरकारों के दौरान के बहुत से ऐसे प्रोजेक्टस हैं, जिनके लिए किसानों से जमीन तो ली गई, लेकिन उनमें या तो मुआवजे से जुड़ी समस्याएं रही या फिर सालों-साल से वो जमीन बेकार पड़ी है.

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि हमने किसान हित में, प्रोजेक्ट के हित में, देश के हित में इन अड़चनों को भी दूर किया. हमनें ये सुनिश्चित किया कि प्रशासन किसानों से समय पर पूरी पारदर्शिता के साथ भूमि खरीदे. तब जाकर 30 हजार करोड़ रुपये की इस परियोजना का भूमिपूजन करने के लिए आज हम आगे बढ़े हैं.

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया Vnation के Facebook पेज को LikeTwitter पर Follow करना न भूलें...
Leave A Reply

Your email address will not be published.