फ्लोर टेस्ट से पहले बिहार में फिर होने वाला है खेला, तेजस्वी यादव हुए एक्टिव

0 84

पटना : बिहार की सियासत में कभी भी और कुछ भी संभव है. नीतीश कुमार ने भले ही राजद संग रिश्ता तोड़ भाजपा संग सरकार बना ली हो, मगर अब भी बिहार में सियासी हलचल थमी नहीं है. बिहार में जिस तरह से सियासी उठापटक देखने को मिल रही हैं, उससे फिर कुछ बड़ा खेला होने की अटकलें लगाईं जा रही हैं.

बिहार में अभी फ्लोर टेस्ट होना बाकी है, इससे पहले ही सियासी सरगर्मियां तेज हैं. बिहार में जारी सियासी उहापोह के बीच तेजस्वी यादव काफी एक्टिव हो गए हैं. फ्लोर टेस्ट से पहले लालू प्रसाद यादव के बेटे तेजस्वी यादव ने राजद के सभी विधायकों को आनन-फानन में पटना बुला लिया है.

दरअसल, बिहार की राजनीति में संशय के बादल लगातार मंडरा रहे हैं. आलम यह है कि सभी दल अपने विधायकों पर पैनी नजर रखे हुए हैं. बिहार में इतनी हलचल इसलिए भी है, क्योंकि तेजस्वी यादव ने बीते दिनों यह बयान देकर पारा बढ़ा दिया था कि बिहार में खेला तो अभी होगा. यही वजह है कि हर पार्टी अपने विधायकों को एकजुट रखने की कोशिश में है. इसी बीच तेजस्वी यादव ने भी अपने सभी विधायकों को पटना बुलाया है और एकजुट रहने का निर्देश दिया है.

माना जा रहा है कि बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने आज यानी शनिवार शाम को राबड़ी देवी के आवास पर राजद विधायक दल की एक अहम बैठक बुलाई है. इस बीच सभी विधायकों को पटना ही रहने का निर्देश दिया गया है. तेजस्वी यादव की ओर से साफ-साफ कहा गया है कि कोई भी राजद विधायक आगामी कुछ दिनों यानी फ्लोर टेस्ट तक पटना से बाहर नहीं जाएगा. इतना ही नहीं, सभी को एकजुट रहने का निर्देश दिया गया है. माना जा रहा है कि तेजस्वी का यह कदम राजद विधायकों को एकजुट रखने की कोशिश है. बता दें कि राजद की सहयोगी कांग्रेस ने अपने सभी विधायकों को हैदराबाद में शिफ्ट कर दिया है.

सूत्रों का कहना है कि बिहार में खेला को लेकर तेजस्वी यादव काफी एक्टिव हो चुके हैं. बिहार में 12 फरवरी को नीतीश की अगुवाई वाली एनडीए सरकार को बहुमत साबित करना है. 12 फरवरी को होने वाले फ्लोर टेस्ट को लेकर अभी से ही हर पार्टी ने तैयारी शुरू कर दी है.

सूत्रों का दावा है कि फ्लोर टेस्ट में कई विधायक क्रॉस वोटिंग कर सकते हैं. ऐसे में कुछ भी संभव है. हालांकि, नीतीश कुमार लगातार कह रहे हैं कि उनके पास बहुमत है और उनकी सरकार सुरक्षित है. मगर तेजस्वी यादव के खेला होगा वाले बयान ने सियासी पारा बढ़ा दिया है. इतना ही नहीं, जीतनराम मांझी के बेटे संतोष सुमन ने भी बड़ा दावा किया है कि बिहार विधानसभा में 12 फरवरी को होने वाले नीतीश सरकार के फ्लोर टेस्ट में कई विधायक क्रॉस वोटिंग कर सकते हैं.

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया Vnation के Facebook पेज को LikeTwitter पर Follow करना न भूलें...
Leave A Reply

Your email address will not be published.