वायु प्रदूषण के मुद्दे पर दिल्ली सरकार की समीक्षा बैठक आज, दिल्ली का AQI फिर 256 पर पहुंचा

0 40

वायु गुणवत्ता एवं मौसम पूर्वानुमान और अनुसंधान प्रणाली (SAFAR) के मुताबिक सोमवार सुबह दिल्ली का वायु गुणवत्ता सूचकांक (Delhi Today AQI) 256 यानी के ‘खराब’ श्रेणी में बना हुआ है. उधर दिल्ली के वायु प्रदूषण (Delhi Air Pollution) की स्थिति को लेकर आज पर्यावरण मंत्री गोपाल राय वरिष्ठ अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक करेंगे. प्रदूषण के चलते लगी पाबंदियों के बीच यह बैठक अहम मानी जा रही है. बैठक में छूट मिल सकती है. इसको लेकर कमीशन फॉर एयर क्वालिटी मैनेजमेंट (CAQM)के साथ चर्चा होगी कि इन परिस्थितियों में आगे किन चीजों में छूट दी जा सकती है.

अगर एयर क्वालिटी इंडेक्स (AQI) 0 से 50 के बीच रहे तो इसे अच्छी श्रेणी में रखा जाता है. 51 से 100 के बीच रहने पर संतोषजनक, जबकि 101 से 200 के बीच मध्यम माना जाता है. वहीं हवा की क्वालिटी 201 से 300 के बीच रहती है तो यह खराब श्रेणी में आता है और 301 से 400 के बीच बेहद खराब. इसके अलावा 401 से 500 के बीच की एयर क्वालिटी इंडेक्स गंभीर श्रेणी में आता है
बता दें, बीती 10 दिसंबर को सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) को वायु गुणवत्ता प्रबंधन आयोग (CAQM) ने बताया कि दिल्ली-एनसीआर वाले राज्यों में 40 उड़न दस्तों द्वारा कारखानों और निर्माण स्थलों सहित कुल 1,534 स्थलों का निरीक्षण किया गया है, और 228 स्थलों को बंद करने का नोटिस जारी किया गया, जबकि उनमें से 111 को बंद कर दिया गया है, ताकि वायु प्रदूषण के स्तर पर अंकुश लगाया जा सके.

बता दें, सुप्रीम कोर्ट के निर्देश पर दो दिसंबर को दिल्ली सरकार ने बच्चों के स्वास्थ्य पर प्रदूषण का प्रभाव कम से कम करने के लिए सभी स्कूलों को अगले आदेश तक बंद करने की घोषणा की थी. उससे पहले निर्माण गतिविधियों और ट्रकों के शहर में प्रवेश पर अगले आदेश तक रोक लगा दी थी. हालांकि, सीएनजी से चलने वाले वाहन, ई-ट्रक और जरूरी सामानों की ढुलाई करने वाले वाले वाहनों को छूट रही.

का क्या था हाल?
रविवार को भी दिल्ली-एनसीआर की हवा में मामूली रूप से सुधार हुआ है. वायु गुणवत्ता बहुत खराब से खिसक कर खराब श्रेणी में पहुंच गई है. वायु गुणवत्ता एवं मौसम पूर्वानुमान और अनुसंधान प्रणाली के मुताबिक, रविवार को दिल्ली का एयर क्वालिटी इंडेक्स (AQI) 256 दर्ज किया गया है. इससे पहले शनिवार को दिल्ली का एक्यूआई 281 रहा. इससे एक दिन पहले यह 314 दर्ज किया गया था.

इसके अलावा फरीदाबाद का एक्यूआई 221, गाजियाबाद का 264, ग्रेटर नोएडा का 192, गुरुग्राम का 268 व नोएडा का एक्यूआई 218 रिकॉर्ड किया गया था. अगले दो से तीन दिनों तक रात में हवा की गुणवत्ता बहुत खराब व दिन में खराब श्रेणी में बनी रहेगी. इसका प्रमुख कारण रात में पारा लुढ़कने और दिन में धूप खिलने को माना जा रहा है.

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया Vnation के Facebook पेज को LikeTwitter पर Follow करना न भूलें...
Leave A Reply

Your email address will not be published.