डोनाल्ड ट्रंप ‘कंटेम्प्ट ऑफ कोर्ट’ के दोषी करार, लगाया 9000 डॉलर का जुर्माना, फिर गलती की तो जाना पड़ेगा जेल

0 33

न्यूयॉर्क : डोनाल्ड ट्रंप की मुश्किलें लगातार बढ़ती जा रही हैं. उनके हश मनी कोई मामला छिपाने के लिए दी गई रिश्वत) मामले की सुनवाई कर रहे जज ने मंगलवार को पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति को गैग आदेशों (विचाराधीन मामले में बयानबाजी करने की मनाही) के उल्लंघन का दोषी ठहराते हुए उन पर 9000 डॉलर (7.50 लाख रुपये) का जुर्माना (fined) लगाया और चेतावनी दी कि दोबारा ऐसा करने पर उन्हें जेल (jail) जाना पड़ सकता है. अदालत ने डोनाल्ड ट्रंप पर हश मनी मामले से जुड़े गवाहों, जूरी सदस्यों सहित अन्य चीजों के बारे में सार्वजनिक रूप से बयान देने पर प्रतिबंध लगाया था.

ट्रंप के खिलाफ 10 बार गैग आदेशों के उल्लंघन करने का आरोप लगा था. हालांकि, न्यायाधीश जुआन एम. मर्चन ने उन्हें नौ बार कोर्ट के आदेशों के उल्लंघन का आरोपी माना. डोनाल्ड ट्रंप विचाराधीन मामले में बयान देते थे और कहते थे कि वह अपने फ्री स्पीच के अधिकार का प्रयोग कर रहे हैं. बता दें कि अमेरिका में इस साल के अंत में राष्ट्रपति चुनाव होने वाले हैं, जिसके लिए डोनाल्ड ट्रंप भी अपनी दावेदारी पेश कर रहे हैं. अमेरिकी एजेंसियों के हाल के सर्वेक्षणों में वर्तमान राष्ट्रपति जो बाइडन और ट्रंप के बीच सीधा मुकाबला दिखाया गया है.

पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप के खिलाफ नेशनल इन्क्वायरर मैगजीन के पब्लिशर डेविड पेकर ने हाल ही में गवाही दी थी. पेकर ने अदालत को बताया था कि उन्होंने 2016 में राष्ट्रपति चुनाव में डोनाल्ड ट्रंप की मदद करने के लिए अपने टैब्लॉइड का उपयोग करने के लिए एक गोपनीय समझौता किया था. डेविड पेकर हश मनी मामले में पहले गवाह हैं. पेकर के मुताबिक उन्होंने 2015 में ट्रंप से कहा था कि नेशनल इन्क्वायरर उनके बारे में सकारात्मक कवरेज करेगा.

डेविड पेकर ने यह भी माना था कि उन्होंने अपनी मैगजीन के जरिए न्यूयॉर्क सेक्स स्कैंडल को दबाने की कोशिश की थी. बता दें कि इस मामले में डोनाल्ड ट्रंप आरोपी हैं. अदालत ने माना है कि इस मामले को दबाकर राष्ट्रपति चुनाव को प्रभावित किया गया. 2024 के राष्ट्रपति चुनाव में रिपब्लिकन उम्मीदवार डोनाल्ड ट्रंप पर एडल्ट फिल्मों की एक्ट्रेस स्टॉर्मी डेनियल्स को दोनों के अवैध संबंधों के बारे में चुप्पी साधने के बदले 130,000 डॉलर की रिश्वत देने का आरोप है. उन पर इस राशि के भुगतान को छिपाने के लिए बिजनेस रिकॉर्ड में हेराफेरी करने का आरोप भी है.

डोनाल्ड ट्रंप ने अदालत के सामने खुद को निर्दोष बताया है और स्टॉर्मी डेनियल्स, जिनका असली नाम स्टेफनी क्लिफोर्ड है, उनके साथ किसी तरह के सेक्सुअल रिलेशन में होने से इनकार किया है. किसी पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति के खिलाफ यह अपनी तरह का पहला मुकदमा है. यह आपराधिक मामला ट्रंप के खिलाफ लंबित चार मामलों में से एक है, लेकिन यह एकमात्र केस हो सकता है जिसका फैसला चुनाव से पहले आ जाए. अगर ट्रंप इस मामले में दोषी करार दिए जाते हैं तो आगामी राष्ट्रपति चुनाव में उनकी उम्मीदवार पर खतरा पैदा हो सकता है

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया Vnation के Facebook पेज को LikeTwitter पर Follow करना न भूलें...
Leave A Reply

Your email address will not be published.