मुलायम की सीट से बहू डिंपल यादव ठोकेंगी ताल, सपा ने बनाया उम्मीदवार

0 76

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में मैनपुरी लोकसभा सीट पर होने वाले उपचुनाव के लिए समाजवादी पार्टी ने पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की पत्नी डिंपल यादव को उम्मीदवार घोषित किया है. समाजवादी पार्टी ने ट्वीट कर इस बात की जानकारी दी है. यह सीट पार्टी के संरक्षक मुलायम सिंह यादव के निधन के बाद खाली हुई थी. सपा मुख्यालय में सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने बुधवार को पार्टी के वरिष्ठ नेताओं के साथ बैठक कर मैनपुरी और रामपुर सीटों पर उम्मीदवारों पर चर्चा की थी.

मैनपुरी संसदीय क्षेत्र के उपचुनाव के नतीजे का केंद्र और यूपी की सरकारों पर कोई असर नहीं पड़ेगा, क्योंकि सत्ताधारी बीजेपी के पास पर बहुमत है, लेकिन इस सीट पर जीत 2024 के आम चुनाव में बीजेपी या सपा को मनोवैज्ञानिक लाभ जरूर पहुंचाएगी. मैनपुरी सीट पर यह देखना दिलचस्प होगा कि प्रगतिशील समाज पार्टी के मुखिया और अखिलेश के चाचा शिवपाल सिंह यादव क्या भूमिका निभाते हैं. शिवपाल ने राष्ट्रपति चुनाव में बीजेपी का पक्ष लिया था.

मिलकर उपचुनाव लड़ेंगे सपा और आरएलडी
यूपी में सपा लोकसभा और विधानसभा उपचुनाव राष्ट्रीय लोकदल (RLD) के साथ मिलकर लड़ेगी. समाजवादी पार्टी ने ट्वीट कर कहा, उत्तरप्रदेश में होने वाले आगामी उपचुनाव में समाजवादी पार्टी और राष्ट्रीय लोकदल मिलकर चुनाव लड़ेंगे. मैनपुरी लोकसभा और रामपुर विधानसभा सीट पर सपा प्रत्याशी चुनाव लड़ेंगे और खतौली विधानसभा सीट पर आरएलडी का प्रत्याशी चुनाव लड़ेगा.

रामपुर विधानसभा सीट सपा नेता आजम खान की सदस्यता रद्द होने और खतौली विधानसभा सीट बीजेपी विधायक विक्रम सैनी की सदस्यता रद्द होने के कारण खाली हुई है. आजम और सैनी की सदस्यता अदालत से सजा होने के बाद रद्द की गई है. आरएलडी प्रमुख जयंत चौधरी ने पहले ही स्पष्ट कर दिया था कि उनकी पार्टी का सपा के साथ गठबंधन भविष्य में भी जारी रहेगा. इन सीटों पर उपचुनाव पांच दिसंबर को होगा.

रामपुर में मिली जीत से बीजेपी की जगी उम्मीद
राजनीतिक गलियारों में चल रही है कि रामपुर में पार्टी के वरिष्ठ नेता आजम खान की पसंद का उम्मीदवार होगा. आजम खान ने 10 बार रामपुर विधानसभा सीट का प्रतिनिधित्व किया था और उनकी पत्नी तज़ीन फातिमा एक बार इस सीट से जीती थीं. मुस्लिम बहुल इस सीट पर बीजेपी कभी जीत नहीं पाई थी, लेकिन हाल के लोकसभा उपचुनावों में रामपुर में मिली जीत से पार्टी को एक उम्मीद जगी है. बीजेपी ने पहले ही आजमगढ़ और रामपुर लोकसभा सीट सपा से छीन लिया है और मैनपुरी और रामपुर में जीत, पार्टी को यूपी जैसे राजनीतिक रूप से महत्वपूर्ण राज्य में मनोबल बढ़ाने वाला होगा.

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया Vnation के Facebook पेज को LikeTwitter पर Follow करना न भूलें...
Leave A Reply

Your email address will not be published.