अगर आप भी कर रहे ब्रेकफास्ट के दौरान ये 5 गलतियां, बढ़ सकती है कोलेस्ट्रॉल की मात्रा

0 34

नई दिल्ली: दिल की बीमारियों के बढ़ते मामले देखते हुए, कोलेस्ट्रॉल लेवल को कंट्रोल करना बेहद जरूरी है। कोलेस्ट्रॉल एक प्रकार का फैट है, जो ब्लड के जरिए शरीर में एक-जगह से दूसरी जगह जाता है। बॉडी में हेल्दी फंक्शन के लिए, यह काफी आवश्यक होता है, लेकिन अगर इसकी मात्रा बढ़ जाए, तो यह सेहत के लिए काफी हानिकारक भी हो सकता है।

कोलेस्ट्रॉल की मात्रा बढ़ने की वजह से, आर्टरीज में ब्लॉकेज हो सकती है, जिस कारण से हार्ट अटैक और स्ट्रोक का खतरा काफी बढ़ जाता है। इसलिए जरूरी है कि कोलेस्ट्रॉल की मात्रा को कंट्रोल किया जाए। हालांकि, हमारी कुछ खराब आदतों की वजह से कोलेस्ट्रॉल का लेवल बढ़ सकता है। हमारे खान-पान की आदतों का भी इस पर काफी प्रभाव पड़ता है। आइए जानते हैं, ब्रेकफास्ट के दौरान किन आदतों की वजह से कोलेस्ट्रॉल लेवल बढ़ सकता है।

प्रोसेस्ड फूड आइटम्स खाना
ब्रेकफास्ट में प्रोसेस्ड फूड आइटम्स, जैसे- बीकन, सॉसेज आदि खाने से कोलेस्ट्रॉल लेवल बढ़ सकता है। इस वजह से आर्टरीज ब्लॉक होने का खतरा बढ़ जाता है। इसलिए अपने ब्रेकफास्ट में प्रोसेस्ड फूड आइटम्स को शामिल न करें।

बेकरी के फूड आइटम्स खाना
सुबह के समय अक्सर लोग नास्ते में ब्रेड, बिस्कुट आदि खाना पसंद करते हैं। यह सोचकर कि यह लाइट होते हैं और इन्हें अक्सर ब्रेकफास्ट में शामिल किया जाता है, लेकिन इनमें ट्रांस फैट्स की मात्रा अधिक होती है। इस कारण से, कोलेस्ट्रॉल की मात्रा बढ़ सकती है। इसलिए अपने ब्रेकफास्ट में इन चीजों को शामिल न करें।

ब्रेकफास्ट न करना
ब्रेकफास्ट न करने की वजह से, आपका मेटाबॉलिज प्रभावित होता है। इस कारण से न केवल आपका ब्लड शुगर लेवल बढ़ता है बल्कि, कोलेस्ट्रॉल लेवल भी प्रभावित होता है। साथ ही, सुबह नाश्ता न करने की वजह से एनर्जी कम होती है और क्रेविंग बढ़ती है, जिस कारण से ओवर इटिंग की समस्या बढ़ जाती है।

कम फाइबर वाले फूड आइटम्स खाना
ब्रेकफास्ट में फाइबर की मात्रा कम होने की वजह से कोलेस्ट्रॉल लेवल बढ़ सकता है। इसलिए ब्रेकफास्ट में फाइबर से भरपूर फूड आइटम्स, जैसे- होल ग्रेन, फल, सब्जियों आदि को शामिल करें। इससे गुड कोलेस्ट्रॉल लेवल बढ़ाने में भी मदद मिलेगी।

ज्यादा शुगर वाले फूड आइटम्स खाना
सुबह नाश्ते में शुगर से भरपूर सीरल्स, पैक्ड फ्रूट जूस आदि की वजह से शरीर में शुगर लेवल बढ़ जाता है, जो ब्लड शुगर के साथ-साथ कोलेस्ट्रॉल की मात्रा को भी प्रभावित करता है। इसलिए अपनी डाइट में इनकी जगह हेल्दी फूड आइटम्स को शामिल करें। जैसे- पैक्ड जूस की जगह आप फल खा सकते हैं, इससे विटामिन्स और मिनरल्स के साथ-साथ फाइबर भी मिलेगा और शुगर भी कम रहेगा।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया Vnation के Facebook पेज को LikeTwitter पर Follow करना न भूलें...
Leave A Reply

Your email address will not be published.