संसद के विशेष सत्र में भाग लेंगे ‘इंडिया’ गठबंधन के दल, एजेंडा के लिए सोनिया पीएम मोदी को लिखेंगी पत्र

0 107

नई दिल्ली। कांग्रेस संसद के विशेष सत्र में भाग लेगी और सोनिया गांधी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर एजेंडा जानने की कोशिश करेंगी, साथ ही कुछ जरूरी मुद्दों पर भी चर्चा करेंगी।

कांग्रेस संसदीय दल की अध्यक्ष सोनिया गांधी ने मंगलवार को पार्टी के संसदीय रणनीति समूह के साथ बैठक की। पार्टी के एक सूत्र ने कहा कि कांग्रेस 18 से 22 सितंबर तक बुलाई गई विशेष सत्र का बहिष्कार नहीं करेगी।

सूत्र ने कहा कि संसदीय रणनीति समूह की बैठक के दौरान कांग्रेस प्रमुख मल्लिकार्जुन खड़गे समेत पार्टी सांसदों ने सकारात्मक एजेंडे के साथ विशेष सत्र में भाग लेने का फैसला किया।

विशेष सत्र के एजेंडे के लिए सोनिया गांधी अगले कुछ दिनों में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखेंगी।

वह प्रधानमंत्री को कई मुद्दों पर चर्चा की विपक्ष की मांग से अवगत कराएंगी।

सूत्र ने कहा कि सोनिया गांधी द्वारा पीएम मोदी को पत्र लिखने की योजना का विपक्षी ‘इंडिया’ गठबंधन के सभी दलों के नेताओं ने समर्थन किया है, जो पांच दिवसीय विशेष सत्र की रणनीति पर चर्चा करने के लिए खड़गे के आवास पर मिले थे।

भारतीय राष्ट्रीय विकास समावेशी गठबंधन (इंडिया) की दो बैठकों में निर्णय लिया गया कि समूह कि वह अडाणी समूह और जेपीसी की मांग, मूल्य वृद्धि, बेरोजगारी, मणिपुर की स्थिति, आर्थिक, राजनीतिक और विदेशी मुद्दों को उठायेगा।

इस बीच, पार्टी के एक अन्य सूत्र ने कहा कि मंगलवार रात खड़गे के आवास पर रात्रिभोज पर पार्टी नेताओं की बैठक में नेताओं ने मंत्रियों और सरकारी अधिकारियों द्वारा इंडिया की बजाय भारत का उपयोग करने के कुछ प्रयासों पर भी चर्चा की।

मंगलवार को जी20 के रात्रिभोज के निमंत्रण पर विवाद खड़ा हो गया, जिसमें द्रौपदी मुर्मू को अंग्रेजी में ‘प्रेसिडेंट ऑफ इंडिया’ की बजाय ‘प्रेसिडेंट ऑफ भारत’ लिखा गया था।

पार्टी सूत्र ने कहा कि ‘इंडिया’ गठबंधन के दल संविधान से अंग्रेजी के ‘इंडिया’ शब्‍द को हटाने के किसी भी कदम का विरोध करेंगे।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया Vnation के Facebook पेज को LikeTwitter पर Follow करना न भूलें...
Leave A Reply

Your email address will not be published.