PM मोदी ने पहली बार सनातन धर्म पर दी प्रतिक्रिया, ‘INDIA’ गठबंधन पर किया जोरदार प्रहार

0 90

भोपाल : सनातन धर्म को लेकर डीएमके समेत कुछ दलों के नेताओं की ओर से की गई बयानबाजी पर पीएम मोदी (PM Modi) ने पहली बार अपनी प्रतिक्रिया दी है। पीएम मोदी ने सनातन विरोध को लेकर ‘इंडिया गठबंधन’ पर जोरदार प्रहार किया और आरोप लगाया कि मुंबई की बैठक में संकल्प लेने के बाद ऐसा किया गया है। पीएम (PM Modi) ने कहा कि वे सनातन को खत्म करके दोबारा भारत (India) को गुलामी के दौर (era of slavery) में ले जाना चाहते हैं। मध्य प्रदेश के बीना में पेट्रोकेमिकल कॉम्पलेक्स की आधारशिला रखने के बाद पीएम मोदी ने जहां एक तरफ जी20 सम्मेलन के सफल आयोजन का जिक्र किया तो दूसरी तरफ विपक्ष पर हमलावर नजर आए।

पीएम मोदी ने ‘इंडिया’ अलायंस को इंडि अलायंस और घमंडिया गठबंधन कहते हुए कहा कि इनका नेता और नेतृत्व तय नहीं है, लेकिन सनातन के विरोध का संकल्प ले लिया है। उन्होंने कहा, ‘एक तरफ आज का भारत दुनिया को जोड़ने का सामर्थ्य दिखा रहा है। दुनिया के मंचों पर यह हमारा भारत विश्व मित्र के रूप में सामने आ रहा है। दूसरी तरफ कुछ ऐसे दल भी हैं जो देश को, समाज को विभाजित करने में जुटे हैं। इन्होंने मिलकर एक ‘इंडि’ अलायंस बनाया। इसे कुछ लोग घमंडिया गठबंधन भी कहते हैं। इनका नेता तय नहीं है, नेतृत्व पर भ्रम है, लेकिन इन्होंने पिछले दिनों मुंबई में जो मीटिंग हुई थी, मुझे लगता है उसमें उन्होंने आगे घमंडिया गठबंधन कैसे काम करेगा उसकी नीति और रणनीति बना दी है। उन्होंने अपना हिडन अजेंडा तय कर लिया। इनकी नीति है- भारत की संस्कृति पर हमला करने की। इस गठबंधन का निर्णय है- भारतीयों की आस्था पर हमला करो। इनकी नीयत है भारत को जिस विचारों ने, जिस संस्कारों ने, जिस परंपराओं ने हजारों वर्षों से जोड़ा है उसे तबाह कर दो।’

पीएम मोदी ने आगे कहा, ‘जिस सनातन से प्रेरित होकर देवी अहिल्या बाई होल्कर ने देशभर में समाजिक काम किए, देश की आस्था की रक्षा की, यह घमंडिया गठबंधन उस सनातन परंपरा को समाप्त करने का संकल्प लेकर आए हैं। ये सनातन की ताकत थी कि झांसी की रानी लक्ष्मी बाई अंग्रजों को यह कहते हुए ललकार पाई कि मैं झांसी नहीं दूंगी। जिस सनातन को गांधी जी ने जीवनभर मान, जिन भगवान श्रीराम ने उनको जीवन भर प्रेरणा दी, उनके आखिरी शब्द थे हे राम। ये घमंडिया गठबंधन के लोग उस सनातन परंपरा को समाप्त करना चाहते हैं। जिसन सनातन से प्रेरित होकर स्वामी विवेकानंद ने समाज की बुराइयों के प्रति जागरूक किया, इंडी गठबंध के लोग उस सनातन को खत्म करना चाहते हैं।’

पीएम मोदी ने कहा कि आने वाले समय में ऐसे हमले तेज होंगे। उन्होंने हर सनातनी और देशप्रेमी को सतर्क करने को कहा। पीएम मोदी ने कहा, ‘यह सनातन की ताकत थी कि स्वतंत्रता आंदोलन में फांसी पाने वाली वीर कहते थे कि अगला जन्म मुझे फिर भारत मां की गोद में देना, जो सनातन संस्कृति संत रविदास का प्रतिबिंब है, जो सनातन संस्कृति माता सबरी की पहचान है, जो सनानत संस्कृति महर्षि वाल्कमीकि आधार है, जिस सनानत ने हजारों वर्षों से भारत को जोड़े रखा है, ये लोग मिलकर अब उस सनातन को खंड-खंड करना चाहते हैं। आज इन लोगों ने खुलकर बोलना शुरू किया है, खुलकर हमला करना शुरू किया है। कल ये लोग हम पर होने वाले हमले और बढ़ाने वाले हैं। देश के कोने-कोने में हर सनातनी को, इस देश को प्यार करने वाले को, इस देश की मिट्टी को प्यार करने वाले को सतर्क करने की जरूरत है। सनातन को मिटाकर ये देश को फिर एक हजार साल की गुलामी में धकेलना चाहते हैं। लेकिन हमें मिलकर ऐसी ताकतों को रोकना है, हमारी संगठन की शक्ति से, हमारी एकजुटता से उनके मंसूबों को नाकाम करना है।’

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया Vnation के Facebook पेज को LikeTwitter पर Follow करना न भूलें...
Leave A Reply

Your email address will not be published.