रवि शास्त्री ने फाइनल के लिए भारतीय टीम को दी धांसू सलाह, बोले- अगर ऐसा किया तो खिताब जीतना पक्का

0 67

नई दिल्ली : भारत के पूर्व मुख्य कोच रवि शास्त्री ने शुक्रवार को कहा कि ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ वर्ल्ड कप 2023 फाइनल में मेजबान टीम प्रबल दावेदार होगी और उसे अपनी रणनीति पर बरकरार रहना चाहिए। शास्त्री ने चेन्नई शहर में एक कार्यक्रम के इतर फाइनल में भारत की योजना पर बात करते हुए कहा कि उन्हें कुछ भी अलग करने की जरूरत नहीं है। शास्त्री ने हा, ”मुझे लगता है कि वे ‘रिलैक्स’ होंगे। वे घरेलू मैदान पर खेल रहे हैं और यह काफी अनुभवी टीम है। और उन्हें कुछ भी अलग करने की जरूरत नहीं है।”

पूर्व मुख्य कोच ने कहा, ”वे जिस तरह से खेले हैं, यह उसी तरह होगा जिस तरीके से वे पिछले मैच में खेले। इससे वे जल्द ही विश्व कप हाथ में उठाए होंगे।” उन्होंने कहा, ”भारत विश्व कप जीतेगा। वे फाइनल में प्रबल दावेदार के तौर पर शुरुआत करेंगे। वे बहुत बढ़िया खेले हैं।” लीग चरण में ऑस्ट्रेलिया को हराने के बावजूद भारत पांच बार की विश्व चैंपियन के आईसीसी फाइनल्स में शानदार रिकॉर्ड को देखते हुए उसके खिलाफ दबाव में होगा। लेकिन शास्त्री का मानना है कि अगर भारतीय टीम धैर्य बनाए रखे और दबाव से निपटने में सफल रहे तो वे विजेता साबित हो सकते हैं।

उन्होंने कहा, ”उन्हें शांत और संयमित बने रहने के साथ दबाव से निपटने की जरूरत है। यह फाइनल मुकाबला है, इसलिए सिर्फ आपको (भारत) इतना अति उत्साही नहीं होना चाहिए।” शास्त्री ने कहा, ”आप (भारत) अपनी भूमिकाएं जानते हैं और इस टीम की सबसे अच्छी बात यही है कि यह एक या दो खिलाड़ियों पर निर्भर नहीं है। मैच दर मैच आठ या नौ खिलाड़ी अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं, इसलिए यह अच्छा संकेत है।” पूर्व भारतीय ऑलराउंडर ने फॉर्म में चल रहे तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी के टूर्नामेंट में शानदार प्रदर्शन की भी तारीफ की जो टूर्नामेंट में गेंदबाजी तालिका में 23 विकेट झटककर शीर्ष पर चल रहे हैं। इसमें न्यूजीलैंड के खिलाफ मुंबई में हुए सेमीफाइनल में सात विकेट झटकना भी शामिल है।

उनका मानना है कि शमी रविवार को अहमदाबाद में होने वाले फाइनल में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा। उन्होंने कहा, ”पहली गेंद पर अगर शमी गेंदबाजी कर रहा है तो मैं बल्लेबाजों को ‘गुड लक’ कहूंगा। उसकी सीम गेंदबाजी और जिस तरह से गेंद गिरती है, शानदार है। उसने इस विश्व कप में लगातार सही लेंथ पर गेंदबाजी की है।” शास्त्री ने कहा, ”मुंबई में वह अपने कौशल से बल्लेबाजों को परेशान कर रहा था। मैं कहूंगा कि यह भारत का सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी आक्रमण है। जब आप ‘वैराइटी’ और कौशल को देखो तो यह शानदार है।”

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया Vnation के Facebook पेज को LikeTwitter पर Follow करना न भूलें...
Leave A Reply

Your email address will not be published.