ट्विटर का CEO फिर भारतीय ही बनने जा रहा! जानिए कौन हैं श्रीराम कृष्णन जो कर रहे हैं एलन मस्क की मदद

0 89

नई दिल्ली: भले ही एलन मस्क ने ट्विटर का अधिग्रहण करने के बाद सबसे पहले भारतीय सीईओ पराग अग्रवाल को निकाल दिया है, लेकिन ट्विटर की तरक्की के लिए मस्क को एक भारतीय लिखता ही नजर आए। एक रिपोर्ट के अनुसार भारतीय-अमेरिकी इंजीनियर श्रीराम कृष्णन को एलन मस्क ने एक कोर टीम में शामिल कर लिया है।

चेन्नई के रहने वाले श्रीराम कृष्णन कोर टीम ही अधिग्रहण के बाद ट्विटर पर ध्यान देने के साथ प्लेटफॉर्म में होने वाले बदलावों की रूपरेखा तय कर रहे हैं। आइए जानते हैं कि श्रीराम कृष्णन कौन है और वो ट्विटर में क्या काम करेंगे।

एलन मस्क की मदद करने आए श्रीराम कृष्णन
श्रीराम कृष्णन ने खुद ये पुष्टी की कि वो अब ट्विटर के साथ काम कर रहे हैं। इसे लेकर उन्होंने एक ट्वीट किया, जिसके जरिए उन्होंने बताया कि वो कुछ और महान लोगों के साथ काम कर रहे हैं। अस्थायी तौर पर ट्विटर के साथ @elonmusk की मदद कर रहे हैं।

इसके साथ ही ये भी बताया कि ट्विटर बहुत महत्वपूर्ण कंपनी है और इससे दुनियाभर में बहुत प्रभाव पड़ सकता है। हालांकि, श्रीराम कृष्णन ने ये भी स्पष्ट कर दिया कि वो अगले सीईओ बनने वाली सूची में नहीं हैं। फिलहाल, इन्हें @a16zcrypto के साथ जोड़ा गया है। उन्होंने बताया कि वो एक क्रिप्टो फाउंडर हैं और जानते हैं कि उन्हें कैसे खोजना है।

कौन हैं श्रीराम कृष्णन?
-श्रीराम कृष्णन भारत के चेन्नई में शिक्षा ग्रहण की है। उनका जन्म निम्न मध्यवर्गीय परिवार में हुआ था। उनके पिता इंश्योरेंस कंपनी में नौकरी करते थे और मां हाउसवाइफ थीं। श्रीराम की पत्नी का नाम आरती है। 2002 में दोनों की मुलाकात याहू मैसेंजर पर हुई थी। उसके बाद से दोनों साथ-साथ रह रहे हैं। शादी के 20 वर्ष हो चुके हैं। वर्ष 2005 में वे अमेरिका के सिएटल चले गए थे। वे वहां माइक्रोसॉफ्ट में नौकरी करते थे। वे उस समय मात्र 20 वर्ष के थे।

करिअर
-श्रीराम को ट्विटर में उनके अनुभव और वरिष्ठता के कारण महत्वपूर्ण पद पर नियुक्त किया जा सकता है।
-वे टेक्नोलॉजिस्ट और इंजीनिर हैं।
-वे उन कंपनियों में निवेश करते हैं, जो नई होती हैं।
-वे अभी तक ऐसी 23 कंपनियों में निवेश कर चुके हैं।
-उन्होंने ताजा निवेश सीड राउंड लैसो लैब्स में 4 अक्टूबर 2022 को किया था।
-इससे पहले वे ट्विटर, मेटा और माइक्रोसॉफ्ट में प्रोडक्ट और इंजीनियरिंग टीम को लीड कर चुके हैं।
-इसके साथ ही वे बिट्सकी, हॉपिन और पॉलीवर्क के बोर्ड में भी हैं।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया Vnation के Facebook पेज को LikeTwitter पर Follow करना न भूलें...
Leave A Reply

Your email address will not be published.