DRS विवाद को लेकर विराट कोहली के दो टूक बोल, कहा- बाहर वाले नहीं जानते मैदान पर क्या होता है

केपटाउन में खेले गए तीसरे टेस्ट मैच के तीसरे दिन डीआरएस के एक फैसले पर भारतीय टीम के खिलाड़ी नाराज हो गए थे और स्टम्प माइक पर अपना गुस्सा जाहिर किया था.

0 158

भारत और साउथ अफ्रीका के बीच तीन मैचों की टेस्ट सीरीज खत्म हो गई है लेकिन खत्म होने के साथ ही इस सीरीज ने डीआरएस पर बहस को फिर हवा दे दी है. दोनों टीमों के बीच केपटाउन में खेले तीसरे टेस्ट मैच के तीसरे दिन एक बार फिर ये तकनीक सवालों के घेरों में आई जब रविचंद्रन अश्विन की गेंद पर डीन एल्गर को एलबीडब्ल्यू आउट नहीं दिया गया. इसके बाद टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली सहित अश्विन और केएल राहुल ने स्टम्प माइक पर आकर अपनी नाराजगी जाहिर की थी. अश्विन ने तो साफ तौर पर ब्रॉडकास्टर सुपरस्पोर्ट का नाम लिया था. टीम इंडिया के टेस्ट कप्तान विराट कोहली ने शुक्रवार को आपने साथियों के व्यवहार का बचाव किया है. कोहली ने कहा है कि बाहर बैठे लोग नहीं जानते कि मैदान पर क्या चल रहा होता है.

तीसरे दिन भारतीय टीम के खिलाड़ियों ने जो व्यवहार किया था उसकी कई दिग्गजों ने आलोचना की थी.  साउथ अफ्रीका ने तीसरे मैच के चौथे दिन भारत को सात विकेट से हरा दिया और तीन मैचों की टेस्ट सीरीज 2-1 से अपने नाम कर भारत को इतिहास रचने नहीं दिया. अगर भारतीय टीम इस मैच को जीत जाती है तो वह सीरीज अपने नाम कर लेती और वो साउथ अफ्रीका में पहली टेस्ट सीरीज जीतती.

मुझे नहीं करनी बात

कोहली ने मैच के बाद कहा कि उन्हें इस मुद्दे पर अब और कोई बात नहीं. मैच के बाद कोहली ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, “मुझे इस पर कोई टिप्पणी नहीं करनी है. हम समझते हैं कि मैदान पर क्या हुआ. लेकिन बाहर के लोग सही तरह से उन बातों को नहीं जानते जो मैदान पर होती हैं. मेरे लिए कोशिश करना और खिलाड़ियों ने जो किया उसे सही ठहराना और ये कहना कि हम हल्के में ले गए… अगर हम वहां तीन विकेट लेते, तो वो ये मैच पलटने वाला पल होता. हम उनके ऊपर बहुत देर तक ज्यादा दबाव नहीं बना सके, पूरे मैच के दौरान और इसलिए हम मैच हार गए.”

विवाद खड़ा करना नहीं चाहता

कोहली ने कहा कि वह और उनकी टीम इस मुद्दे से आगे बढ़ गई है और वह कोई विवाद खड़ा करना नहीं चाहते. उन्होंने कहा, “वो एक पल विवाद खड़ा करने के लिए काफी हो सकता है लेकिन मैं विवाद पैदा करने में दिलचस्पी नहीं रखता. वो पल जा चुका है और हम उससे आगे बढ़ चुके हैं. हमारा ध्यान सिर्फ खेल पर है. हमने विकेट लेने की कोशिश की.”

ये था पूरा विवाद

ये विवाद तीसरे दिन साउथ अफ्रीका की पारी के 21वें ओवर में हुआ था. अश्विन की गेंद डीन एल्गर के पैड पर लगी थी. भारतीय टीम ने अपील की थी और अंपायर मारियस इरसमस ने एल्गर को आउट दे दिया था. इस पर एल्गर ने रिव्यू लिया. जिसमें बताया गया कि गेंद स्टम्प के ऊपर जा रही है, हालांकि सामने से देखने पर ये साफ आउट लग रहा था लेकिन तीसरे अंपायर ने डीआरएस के तहत एल्गर को नॉट आउट करार दिया. इस पर सभी को हैरानी हुई. अंपायर इरसमस ने भी इस फैसले पर हैरानी जताई थी और स्टम्प माइक में उन्हें ‘ये असंभव है’ कहते हुए सुना गया था.

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया Vnation के Facebook पेज को LikeTwitter पर Follow करना न भूलें...
Leave A Reply

Your email address will not be published.