यमन के हूती विद्रोहियों ने UAE पर किया बड़ा हमला, 3 तेल टैंकरों में भीषण विस्फोट, दो भारतीयों समेत तीन लोगों की मौत

यमन के हूती विद्रोहियों ने सऊदी अरब के बाद अब यूएई को निशाना बनाना शुरू कर दिया है. यहां संभावित ड्रोन हमला किया गया है, जिसके चलते अबू धाबी में दो जगह आग लग गई.

0 134

संयुक्त अरब अमीरात (UAE) पर यमन के हूती विद्रोहियों ने बड़ा हमला कर दिया है. इस बात की जानकारी समाचार एजेंसी एएफपी ने अबू धाबी पुलिस के हवाले से दी है. वहीं, समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, हूती विद्रोहियों के इस हमले में दो भारतीय नागरिकों समेत तीन लोगों की मौत हुई है. मरने वालों में एक पाकिस्तानी नागरिक भी शामिल है. इसके अलावा, छह अन्य लोग घायल हुए हैं, जिन्हें मामूली चोटें आई हैं.

स्थानीय मीडिया का कहना है कि सबसे पहले मुसाफ्फा इलाके में 3 तेल टैंकरों में विस्फोट हुआ. इसके बाद अबू धाबी अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट (Abu Dhabi International Airport) के नए निर्माण स्थल पर आग लगने की सूचना मिली. लेकिन इससे एयरपोर्ट को ज्यादा नुकसान नहीं पहुंचा है. आग (Fire) मामूली थी. ईरान समर्थित इन विद्रोहियों ने खुद हमले की बात स्वीकार की है.वहीं, UAE में भारतीय राजदूत संजय सुधीर ने एएनआई से पुष्टि की है कि ड्रोन हमले में दो भारतीय नागरिक मारे गए हैं. उनकी पहचान जारी की जा रही है.

हूतियों ने हमले की जिम्मेदारी ली

पुलिस को राजधानी अबू धाबी में दो जगह आग लगने की सूचना मिली थी. इनमें से एक आग मुसाफ्फा में लगी, जबकि दूसरी एयरपोर्ट पर. पुलिस को आशंका है कि ऐसा ड्रोन हमले (Drone Attack) के कारण हुआ है. घटना सोमवार सुबह की है. हूती संगठन के नियंत्रण वाली फोर्स के प्रवक्ता याह्या सारी (Yahya Saree) से जुड़े एक ट्विटर अकाउंट के एक पोस्ट के अनुसार, हूतियों ने ‘आने वाले घंटों में संयुक्त अरब अमीरात में बड़ा सैन्य अभियान’ चलाने की योजना बनाई है. हूती विद्रोहियों ने सऊदी अरब के बाद अब यूएई पर हमले करना शुरू कर दिया है.

घटनाओं की जांच शुरू की गई

स्थानीय मीडिया वेबसाइट के अनुसार, दोनों ही जगहों पर आग को नियंत्रित कर लिया गया है (Fir Incidents in Adu Dhabi). इससे वायु यातायात भी प्रभावित नहीं हुआ. ना ही किसी तरह का बड़ा नुकसान हुआ है. आग लगने के कारणों का पता लगाने के लिए बडे़ स्तर पर जांच शुरू कर दी गई है. इससे पहले हूतियों ने इसी तरह के हमले कई बार सऊदी अरब पर किए हैं. लेकिन अब वो यूएई को निशाना बना रहा है. सऊदी अरब में तेल से जुड़े सुविधा केंद्रों और कई शहरों पर हूतियों ने मिसाइल दागी हैं. वो यमन युद्ध में सऊदी अरब के शामिल होने से नाराज है.

यूएई को क्यों निशाना बना रहा हूती?

यमन के बडे़ हिस्से पर हूती विद्रोहियों ने कब्जा किया हुआ है. यहां अंतरराष्ट्रीय स्तर पर मान्यता प्राप्त सरकार की बहाली के लिए सऊदी अरब के नेतृत्व वाला सैन्य गठबंधन हूतियों के खिलाफ लड़ रहा है. यमन के गृहयुद्ध (Yemen Civil War) में लड़ाई के लिए यूएई, सऊदी गठबंधन में 2015 में शामिल हो गया था. जिसके चलते हूती अब यूएई को निशाना बना रहा है. उसने 2 जनवरी को यूएई के रवाबी नाम के मालवाहक जहाज को भी अपने कब्जे में ले लिया था. जिसपर सवार 11 लोगों को बंधक बना लिया गया (Why Houthis Attack on UAE). इनमें से 7 भारतीय हैं. संयुक्त राष्ट्र और भारत ने हूतियों से आग्रह किया है कि इन सभी लोगों को रिहा कर दिया जाए. सऊदी का कहना है कि जहाज अंतरराष्ट्रीय जलक्षेत्र में था. जबकि हूती संगठन का कहना है कि यह उसके क्षेत्र में था.

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया Vnation के Facebook पेज को LikeTwitter पर Follow करना न भूलें...
Leave A Reply

Your email address will not be published.