कानपुर टेस्ट से पहले ‘हलाल मीट’ को लेकर ट्रोल हुआ BCCI, जानें क्या है माजरा

0 439

भारत ने न्यूजीलैंड से तीन मैचों की टी20 सीरीज 3-0 से जीत ली है. अब दोनों टीमों के बीच टेस्ट सीरीज (India vs New Zealand Test Series) खेली जाएगी. सीरीज का पहला टेस्ट कानपुर में खेला जाएगा. मैच शुरू होने से पहले एक अलग तरह का विवाद सामने आ रहा है. भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) कानपुर टेस्ट मैच के लिए तैयार किए गए डाइट चार्ट के लिए ट्रोल हो रहा है.

मंगलवार सुबह ट्विटर पर बीसीसीआई प्रमोट्स हलाल (#BCCI_Promotes_Halal) ट्रेंड होने लगा. आइए जानते हैं कि आखिर पूरा माजरा क्या है और बीसीसीआई (BCCI) कुछ प्रशंसकों के निशाने पर क्यों है. भारत और न्यूजीलैंड (India vs New Zealand) के बीच गुरुवार (25 नवंबर) से कानपुर में पहला टेस्ट मैच खेला जाएगा. इसके लिए दोनों टीमें कानपुर पहुंच चुकी हैं. ये खिलाड़ी होटल लैंडमार्क टावर में बायो-बबल में रहेंगे. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक भारतीय खिलाड़ियों के लिए भोजन का मेन्यू भी जारी कर दिया गया है. इसमें ऑल डे काउन्टर, स्टेडियम में मिनी ब्रेकफास्ट, लंच, टी टाइम स्नैक और रात में डिनर शामिल है. इस मेन्यू से पोर्क और बीफ बाहर रखे गए हैं. मांसाहारी व्यंजन में हलाल मीट को शामिल किया गया है.

यह सारा बवाल हलाल मीट को लेकर ही है. मंगलवार को सोशल मीडिया पर कुछ ही घंटे में 10 हजार से ज्यादा लोगों ने इस विषय पर ट्वीट किए. ज्यादातर ट्वीट हलाल मीट को लेकर सवाल उठाने वाले थे.

बीसीसीआई से सवाल करने वाले ज्यादातर यूजर्स का तर्क था कि हलाल मीट मुस्लिम के लिए जरूरी बताया गया है. अन्य धर्म के लोगों का इससे कोई लेना-देना नहीं है. दूसरी ओर क्रिकेट टीम में हर धर्म के लोग हैं. ऐसे में किसी एक धर्म की मान्यता को लेकर कोई निर्णय लेना उचित नहीं है.

हालांकि, बीसीसीआई की ओर से सोशल मीडिया पर उठाए जा रहे सवालों का कोई जवाब नहीं आया है. यह भी स्पष्ट नहीं है कि बोर्ड ने आधिकारिक तौर पर डाइट प्लान जारी किया है या नहीं.

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया Vnation के Facebook पेज को LikeTwitter पर Follow करना न भूलें...
Leave A Reply

Your email address will not be published.