हमारे देश का संविधान, जो की हमारे जीवन का आधार है क्योंकि अगर ये नही होता तो आज हम तुम हक से अपनी आवाजों को भी नहीं उठा पाते।

0 206

हमारे देश का संविधान, जो की हमारे जीवन का आधार है क्योंकि अगर ये नही होता तो आज हम तुम हक से अपनी आवाजों को भी नहीं उठा पाते। हमारा संविधान 26 जनवरी, 1950 को देश में लागू हुआ और इसी के साथ हमारा देश पूर्ण रूप से लोकतंत्रात्मक राष्ट्र बन गया।

हमारे देश का संविधान, जो की हमारे जीवन का आधार है क्योंकि अगर ये नही होता तो आज हम तुम हक से अपनी आवाजों को भी नहीं उठा पाते।

हमारा संविधान 26 जनवरी, 1950 को देश में लागू हुआ और इसी के साथ हमारा देश पूर्ण रूप से लोकतंत्रात्मक राष्ट्र बन गया।

आपको बता दे हमारे संविधान को बनने में 2 साल, 11 महीने और 17 दिन लगे थे।

भारत के संविधान में कुल 395 Article हैं और 22 parts हैं। इसके अलावा 12 schedules भी हैं। ये मिलकर भारत के संविधान को विश्व का सबसे बड़ा संविधान बनाते हैं।

संविधान लागू होने के बाद स्वतंत्र भारत के पहले राष्ट्रपति बने थे- Dr राजेंद्र प्रसाद।

अगर बात करे इस दिन में होने वाले खास कार्यक्रमों की तो इस दिन सबसे भव्य परेड होती है जो की हर साल राजपथ, दिल्ली से शुरू होती है और इंडियागेट पर खत्म होती है। देश के राष्ट्रपति राजपथ पर तिरंगा लहराते हैं और परेड को शुरू कर दिया जाता है।

आज हम सबको फक्र होना चाहिए अपने देश के संविधान पर क्योंकि इसी की वजह से आज हम खुले में स्वांस लेने के लिए आजाद हैं।

https://youtu.be/Ehzi4tB2P8E

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया Vnation के Facebook पेज को LikeTwitter पर Follow करना न भूलें...
Leave A Reply

Your email address will not be published.