पूजा में जिले की सुरक्षा में तैनात रहेंगे 450 जवान, सीसीटीवी कैमरे लगेंगे सभी पंडालों में

0 61

धनबाद: मां दुर्गा की आराधना का त्‍योहार नवरात्र 26 सितंबर से शुरू हो रहा है। हर जगह पूजा की धूम मची हुई है। बाजारों में काफी भीड़ देखने को भी मिल रही है। त्‍योहार के दौरान सुरक्षा व्‍यवस्‍था को लेकर पुलिस भी अपने स्‍तर से तैयारी में जुट गई है। थाना स्तर पर शांति समिति की बैठक के अलावा एसएसपी संजीव कुमार खुद पूरी व्यवस्था की माॅनीटरिंग में जुटे हैं।

एसएसपी ने बताया कि जिले भर में इस बार पूजा में सुरक्षा के लिए 450 जवानों की ड्यूटी लगाई जाएगी। इसके अलावा सभी पूजा पंडालों को निर्देश दिया गया है कि वह पंडाल में सीसीटीवी कैमरे जरूर लगवाएं। एसएसपी ने बताया कि इसके अलावा हर पूजा-पंडाल में सादे लिबास में भी पुलिस कर्मी तैनात रहेंगे। उनका काम गतिविधियों पर नजर रखना होगा। इसमें पुरुष जवान के अलावा महिला पुलिस कर्मी भी रहेंगी।

झरिया, कतरास व धनबाद में तैनात रहेगी क्यूआरटी
झरिया, कतरास और धनबाद में एक-एक क्विक रेस्‍पाॅन्‍स टीम मौजूद रहेगी। किसी भी तरह की सूचना पर यह तुरंत हरकत में आएगी। इसका कंट्रोल रूम सीसीआर में रहेगा। फोन करने वाले पहले सीसीआर में फोन करेंगे, उसके बाद वहां से क्यूआरटी को सूचना दी जाएगी। एसएसपी संजीव कुमार ने टाइगर जवानों को भी पूजा को लेकर विशेष निर्देश दिया है। पूजा में उनकी ड्यूटी बढ़ जाएगी। बताया कि जहां पेट्रोलिंग पार्टी को पहुंचने में लेट होती है, वहां आसानी से टाइगर जवान पहुंच जाते है।

पुराने वारंटियों की तलाश तेज
एसएसपी संजीव कुमार ने बताया कि वांछित अपराधियों को पकड़ने पर पुलिस ने जोर लगाया है। इसके अलावा वारांटियों की भी तलाश की जा रही है। पूजा पंडाल की सुरक्षा में असामाजिक तत्‍व सेंध ना लगा सकें, पुलिस की इस पर भी नजर रहेगी। कहा कि भीड़ का फायदा उठाकर अक्‍सर जेबकतरे मौके की फिराक में घूमते रहते हैं। भीड़ में महिलाओं से दुर्व्‍यवहार के भी मामले सामने आते हैं। ऐसे लोगों के पकड़े जाने पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी। एसएसपी ने बताया कि पूजा को लेकर जिले भर के सभी पुलिस अधिकारियों व कर्मियों की छुट्टियां रद कर दी गई हैं।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया Vnation के Facebook पेज को LikeTwitter पर Follow करना न भूलें...
Leave A Reply

Your email address will not be published.