राजभर को एक और झटका, सुभासपा के 35 पदाधिकारियों का इस्तीफा,नवरात्रि में नई पार्टी का ऐलान

0 41

नई दिल्ली: सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी (सुभासपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर (Om Prakash Rajbhar) की मुश्किलें अभी और बढाती दिख रही हैं. ओम प्रकाश राजभर को एक बार फिर बड़ा झटका लगा है. बता दे, मऊ जनपद में शुक्रवार को सुभासपा की प्रदेश उपाध्यक्ष संगीता राजभर समेत 35 पदाधिकारियों ने पार्टी से इस्तीफा दिया. इसके साथ ही सुभासपा से अलग हुए बागियों ने एक नई पार्टी बनाने का ऐलान कर दिया है.

नवरात्र में करेंगे नई पार्टी का ऐलान

वहीं मऊ के एक प्लाजा में आज महापंचायत बुलाकर नाराज सुभासपा के कार्यकर्ताओं ने पूर्व राष्ट्रीय उपाध्यक्ष महेंद्र राजभर के समर्थन में नई पार्टी गठन करने का ऐलान कर दिया है. महेंद्र राजभर ने बताया कि नई पार्टी के नाम पर सहमति बन रही है और सभी लोगो की सहमति से नवरात्र में सुभासपा से अलग एक नई पार्टी की घोषणा कर दी जाएगी. कार्यकर्ताओं ने ओम प्रकाश राजभर पर उपेक्षा और परिवारवाद करने का आरोप लगाया.

पार्टी के झंडे पर होगी सुहेलदेव की फोटो

नई पार्टी के झंडे पर सुहेलदेव की फोटो होगी. इस नई पार्टी में समाज के उपेक्षित कार्यकर्ताओं को जगह दिया जाएगा. नई पार्टी बनने से निकाय चुनाव की तैयारी कर रहे ओपी राजभर की मुश्किलें बढ़ सकती हैं. बता दें कि प्रदेश उपाध्यक्ष संगीता राजभर, प्रदेश महासचिव लालजी राजभर, पूर्व जिला अध्यक्ष मऊ सोनू राजभर सहित तमाम बड़े नेताओं ने पार्टी का साथ छोड़ दिया है.

सुभासपा के ये बड़ेनेता भी दे चुके है इस्तीफा

ओपी राजभर को पहला झटका वाराणसी में लगा था, जब राष्ट्रीय प्रवक्ता शशि प्रताप सिंह ने पार्टी का साथ छोड़ दिया था. उसके कुछ दिन बाद ही सपा प्रमुख अखिलेश यादव से मुलाकात करने के बाद छोटी पार्टियों के साथ नए गठबंधन को लेकर घोषणा भी की. शशि प्रताप के बाद महेंद्र राजभर ने भी सुभासपा अध्यक्ष को बड़ा झटका दिया. पार्टी के उपाध्यक्ष और महेंद्र राजभर के साथ बड़ी संख्या में सुभासपा नेताओं और कार्यकर्ताओं ने पार्टी से इस्तीफा दे दिया था.

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया Vnation के Facebook पेज को LikeTwitter पर Follow करना न भूलें...
Leave A Reply

Your email address will not be published.