महाराष्ट्र के मंत्री के बिगड़े बोल कहा ‘अगऱ मेरे गांव की सड़कें हेमा मालिनी के गालों की तरह नहीं मिली तो दे दूंगा इस्तीफा’

0 269

महाराष्ट्र के मंत्री और शिवसेना नेता (Shiv Sena Leader) गुलाबराव पाटिल (Minister Gulabrao Patil) अपने विवादास्पद बयान को लेकर घिर गए हैं. अपने विधानसभा क्षेत्र जलगांव जिले की सड़कों की तुलना अभिनेत्री हेमा मालिनी (Hema Malini) के गाल से करने की टिप्पणी पर विपक्षी दल बीजेपी (BJP) से साथ राज्य महिला आयोग (Maharashtra Women Commission) ने कड़ा रुख अपनाया है.

दरअसल मंत्री गुलाबराव पाटिल ने हाल ही में बोधवाड़ नगर पंचायत चुनाव के दौरान एक चुनावी बैठक को संबोधित किया था. जहां उन्होंने अपने विरोधियों पर निशाना साधा. इसी दौरान उन्होंने कहा कि , ‘जो 30 सालों तक विधायक रहे, उन्हें मेरे विधानसभा क्षेत्र में आकर सड़कों को देखना चाहिए. अगर ये हेमा मालिनी के गाल जैसी नहीं हैं तो मैं इस्तीफा दे दूंगा.’ राज्य के जलापूर्ति मंत्री पाटिल BJP के पूर्व नेता एकनाथ खडसे पर हमला बोल रहे थे.

वहीं मामले में राज्य महिला आयोग ने भी संज्ञान लिया है. राज्य के महिला आयोग ने कड़ा रुख अपनाते हुए मंत्री से अपने बयान पर माफी मांगने को कहा है. राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष रूपाली चाकणकर (Rupali Chakankar) ने मंत्री पाटिल की टिप्पणी का संज्ञान लिया और अपनी टिप्पणी पर माफी नहीं मांगने पर उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की चेतावनी दी. हाल ही में राजस्थान के ग्रामीण विकास राज्य मंत्री राजेंद्र गुढ़ा ने भी कुछ ऐसा ही बयान दिया था. उन्होंने कहा कि सड़कें कैटरीना कैफ के गालों जैसी होनी चाहिए. हेमा मालिनी अब बूढ़ी हो गई हैं. जिसके बाद उनके इस बयान को लेकर उन्हें जमकर घेरा गया था.

वहीं मंत्री गुलाबराव पाटिल के इस बयान के बाद वह विपक्ष के निशाने पर आ गए हैं. राज्य विधान परिषद में विपक्ष के नेता बीजेपी के प्रवीण दारेकर (BJP Leader Praveen Darekar) ने कहा कि “पाटिल के खिलाफ महिलाओं को बदनाम करने के लिए एक अपराध शुरू किया जाना चाहिए. मैं देखना चाहता हूं कि महा विकास आगाड़ी सरकार मंत्री के खिलाफ क्या कार्रवाई करती है.”

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया Vnation के Facebook पेज को LikeTwitter पर Follow करना न भूलें...
Leave A Reply

Your email address will not be published.