PNB में है खाता तो अब इन बैंकिंग सेवाओं के लिए चुकाने होंगे ज्यादा पैसा, 15 जनवरी से लागू हुआ नियम

मिनिमम बैलेंस न रखने पर क्वार्टरली चार्जेज ग्रामीण क्षेत्रों में 400 रुपये और शहरी और मेट्रो क्षेत्रों में 600 रुपये कर दिया गया है. इसके साथ ही, पीएनबी ने ग्रामीण, अर्ध-शहरी (SU), शहरी और मेट्रो क्षेत्रों में अपने लॉकर किराये के शुल्क में भी बढ़ोतरी की है.

0 301

सार्वजनिक क्षेत्र के पंजाब नेशनल बैंक (PNB) के ग्राहकों के लिए बड़ी खबर है. पीएनबी ने बैंक द्वारा दी जाने वाली अलग-अलग सर्विस चार्जेज में बढ़ोतरी की है. नई दरें 15 जनवरी 2022 से लागू हो गई हैं. पीएनबी (Punjab National Bank) की आधिकारिक वेबसाइट के एक नोटिफिकेशन के मुताबिक बैंक ने खातों में मिनिमम बैलेंस (Minimum Balance) नहीं रखने पर भी चार्ज बढ़ा दिए हैं. मिनिमम बैलेंस न रखने पर क्वार्टरली चार्जेज ग्रामीण क्षेत्रों में 400 रुपये और शहरी और मेट्रो क्षेत्रों में 600 रुपये कर दिया गया है. इसके साथ ही, पीएनबी ने ग्रामीण, अर्ध-शहरी (SU), शहरी और मेट्रो क्षेत्रों में अपने लॉकर किराये के शुल्क में भी बढ़ोतरी की है.

पंजाब नेशनल बैंक देश का दूसरा सबसे बड़ा सरकारी बैंक है. बैंक के 18 करोड़ से ज्यादा ग्राहक हैं. इसके 12,248 ब्रांच और 13,000 से ज्यादा एटीएम हैं. पीएनबी कई सर्विसेज के लिए अधिक रकम वसूल करेगा. आइए जानते हैं वो सुविधाएं जिनके लिए आपको ज्यादा पैसे देने होंगे.

पंजाब नेशनल बैंक में अब इन बैंकिंग सेवाओं के लिए अधिक भुगतान करना होगा.

सार्वजनिक क्षेत्र के पंजाब नेशनल बैंक (PNB) के ग्राहकों के लिए बड़ी खबर है. पीएनबी ने बैंक द्वारा दी जाने वाली अलग-अलग सर्विस चार्जेज में बढ़ोतरी की है. नई दरें 15 जनवरी 2022 से लागू हो गई हैं. पीएनबी (Punjab National Bank) की आधिकारिक वेबसाइट के एक नोटिफिकेशन के मुताबिक बैंक ने खातों में मिनिमम बैलेंस (Minimum Balance) नहीं रखने पर भी चार्ज बढ़ा दिए हैं. मिनिमम बैलेंस न रखने पर क्वार्टरली चार्जेज ग्रामीण क्षेत्रों में 400 रुपये और शहरी और मेट्रो क्षेत्रों में 600 रुपये कर दिया गया है. इसके साथ ही, पीएनबी ने ग्रामीण, अर्ध-शहरी (SU), शहरी और मेट्रो क्षेत्रों में अपने लॉकर किराये के शुल्क में भी बढ़ोतरी की है.

पंजाब नेशनल बैंक देश का दूसरा सबसे बड़ा सरकारी बैंक है. बैंक के 18 करोड़ से ज्यादा ग्राहक हैं. इसके 12,248 ब्रांच और 13,000 से ज्यादा एटीएम हैं. पीएनबी कई सर्विसेज के लिए अधिक रकम वसूल करेगा. आइए जानते हैं वो सुविधाएं जिनके लिए आपको ज्यादा पैसे देने होंगे.

>> पीएनबी ने ग्रामीण, अर्ध-शहरी, शहरी और मेट्रो क्षेत्रों में अपने लॉकर किराये के शुल्क में भी बढ़ोतरी की है. शहरी क्षेत्रों में लॉकर शुल्क में 500 रुपये की बढ़ोतरी की गई है.

>> मिनिमम बैलेंस न रखने पर क्वार्टरली चार्जेज ग्रामीण क्षेत्रों में 400 रुपये और शहरी और मेट्रो क्षेत्रों में 600 रुपये कर दिया गया है.

>> बैंक ने लॉकर विजिट चार्ज भी बढ़ा दिए हैं. अब साल में 12 लॉकर विजिट फ्री होंगे. उसके बाद जितनी बार ग्राहक लॉकर देखेंगे, उन्हें प्रति विजिट के लिए 100 रुपये चुकाने होंगे.

>> पीएनबी प्रति माह 3 मुफ्त लेनदेन की अनुमति देगा उसके बाद 50 रुपये प्रति लेनदेन चार्ज लिया जाएगा. ये चार्जे वैकल्पिक चैनलों जैसे कि बीएनए, एटीएम और सीडीएम को छोड़कर है. वरिष्ठ नागरिक खातों के लिए यह लागू नहीं है.

>> PNB ने बचत खाता (Saving Account) में ट्रांजैक्शन फीस भी बढ़ा दी है. बेस या नॉन-बेस ब्रांच के बावजूद, बैंक इस समय प्रति माह 5 मुफ्त लेनदेन की अनुमति दे रहा है. उसके बाद प्रति ट्रांजैक्शन सर्विस चार्ज के रूप में 25 रुपये लिया जाएगा. (वैकल्पिक चैनलों जैसे कि बीएनए, एटीएम और सीडीएम को छोड़कर).

>> बैंक ने कैश डिपॉजिट की लिमिट भी घटा दी है. प्रति दिन मुफ्त जमा सीमा को मौजूदा 2 लाख रुपये से घटाकर 1 लाख रुपये कर दिया गया है और 1 लाख रुपये से ज्यादा जमा पर 15 जनवरी 2022 से 10 पैसे प्रति पीस से चार्ज लिया जाएगा. यह बेस और नॉन-बेस दोनों ब्रांच पर लागू होगा.

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया Vnation के Facebook पेज को LikeTwitter पर Follow करना न भूलें...
Leave A Reply

Your email address will not be published.