जानिए क्यों सेविंग ब्लेड में बना होता है इस तरह का डिजाइन

0 139

हम सभी हमारे दैनिक जीवन में तरह-तरह की चींजो का इस्तेमाल करते हैं. ऐसे में बात की जाए ब्लेड की तो इसका इस्तेमाल भी हम सभी अपने दैनिक जीवन में कभी ना कभी तो करते ही हैं. पुरुष तो ब्लेड का इस्तेमाल हफ्ते में एक बार कर ही लेते हैं. अब बात करें ब्लेड की तो ब्लेड में खाली जगह क्यों होती हैं यह बहुत ही कम लोगों को पता है, तो आइए आज हम आपको बताते हैं आखिर क्यों होती हैं ब्लेड के बीच में जगह…

ब्लेड के बीच में जगह बनाने वाली कम्पनी साल 1901 में आई थी जिसका नाम था जिलेट कम्पनी. इस कम्पनी के प्रमुख संस्थापक किंग कैम्प जिलेट ने विल्लियम निकर्सन की सहायता से पहली ब्लेड को डिजाइन किया था जिसमे उन्होंने बीच में डिजाइन बनाई थी और इसका वर्ष 1904 में एक औद्योगिक रूप में उत्पादन प्रारम्भ किया गया था.

इसके बाद जब पहली बार ब्लेड का निर्माण किया गया तो उसका उत्पादन केवल शेविंग के लिए किया गया, और पहली बार केवल 165 ब्लेड बनाई गई थी. शेविंग के दौरान ब्लेड को जिलेट के बोल्ड में बिठाने के लिए उसमे जगह छोड़ी जाती थी. ब्लेड का उत्पादन पहली बार जिलेट ने ही किया था और उन्होंने पहली बार शेविंग रेजर भी बनाया था. अब दुनियाभर की कंपनियां जिलेट को कॉपी करती हैं. आप सभी को शायद ही पता होगा कि पहली जिलेट का नाम ब्लू जिलेट ब्लेड के नाम से उत्पादित किया गया था.

पहली बार पुरुषो के लिए जिलेट आई थी तो सभी बहुत खुश हुए थे. जिलेट ने उसके बाद कई तरह कि डिजाइंस निकाली जिसे दूसरी कंपनियों ने कॉपी किया. आज भी कई लोग जिलेट के डिजाइंस को बनाते है और अब भी कई कंपनियां जिलेट के डिजाइन को कॉपी करती पाई जाती हैं.

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया Vnation के Facebook पेज को LikeTwitter पर Follow करना न भूलें...
Leave A Reply

Your email address will not be published.