महाराष्ट्र पुलिस ने अनाहिता पुंडोले को ‘लापरवाह’ ड्राइविंग के लिए मिस्त्री की मौत का जिम्मेदार ठहराया

0 118

पालघर । पालघर पुलिस ने कार दुर्घटना के सिलसिले में मुंबई की मेडिको अनाहिता डेरियस पुंडोले पर ‘लापरवाही’ का मामला दर्ज किया है, जिसमें 4 सितंबर को शापूरजी पलोनजी समूह के उद्योगपति साइरस पी. मिस्त्री की मौत हो गई थी, एक अधिकारी ने शनिवार को यह जानकारी दी।

पालघर पुलिस ने अनाहिता पुंडोले (55) के खिलाफ मामला दर्ज किया है, जिनके बारे में कहा जा रहा है कि वह अहमदाबाद-मुंबई राष्ट्रीय राजमार्ग पर सूर्या नदी पुल पर मर्सिडीज बेंज को तेज गति से चला रही थी। दुर्घटना में मिस्त्री के अलावा जहांगीर दिनशा पुंडोले की भी मौत हो गई, जबकि उनके भाई डेरियस दिनशा पुंडोले और भाभी अनाहिता गंभीर रूप से घायल हो गई थी।

प्रारंभ में, पालघर पुलिस ने घातक दुर्घटना का मामला (42/2022) दर्ज किया था और कासा पुलिस स्टेशन द्वारा वरिष्ठ अधिकारी प्रशांत परदेशी की अध्यक्षता में सभी संभावित कोणों से दुर्घटना की जांच के लिए एक जांच दल का गठन किया गया था। जांच के दौरान, परदेशी ने चश्मदीद गवाहों, वसई आरटीओ अधिकारियों, पुणे में मर्सिडीज बेंज इंडिया के अधिकारियों से पूछताछ की, और हादसे पर उनकी रिपोर्ट तैयार की।

जांच से यह सामने आया कि अनाहिता पुंडोले, कथित तौर पर ‘कार को तेज और नासमझ तरीके से चला रही थी, एक अन्य वाहन से आगे निकलने का प्रयास करने के दौरान सड़क के डिवाइडर में टक्कर मार दी’, जिससे घातक दुर्घटना हुई। मामले में परदेशी की जांच और अनाहिता से पूछताछ के बाद पालघर के पुलिस अधीक्षक बालासाहेब पाटिल के मार्गदर्शन में कासा पुलिस ने अब उनके खिलाफ मामला दर्ज किया है।

पुलिस ने मोटर वाहन अधिनियम की संबंधित धाराओं के साथ-साथ जल्दबाजी या लापरवाही से किसी व्यक्ति की मौत के संबंध में आईपीसी की धारा 304 (ए) के तहत मामला दर्ज किया है। अधिवक्ता विनोद तिवारी ने कहा, आईपीसी की धारा 304 (ए), हालांकि सं™ोय है, एक जमानती अपराध है और अगर दोषी पाया जाता है, तो आरोपी को अधिकतम दो साल की जेल की सजा और/या जुर्माना लग सकता है

हादसे के बाद, गंभीर रूप से घायल पुंडोले दंपति को वापी के एक अस्पताल में स्थानांतरित कर दिया गया था, जहां से उन्हें अगले दिन विशेष उपचार के लिए मुंबई के सर एच.एन. रिलायंस फाउंडेशन अस्पताल में भर्ती कराया गया था। हादसे में डेरियस पुंडोले को जबड़े के फ्रैक्च र का सामना करना पड़ा था, उनकी पत्नी को हिप फ्रैक्च र और न्यूमोथोरैक्स का सामना करना पड़ा था।

एचएनआरएफ के सीईओ तरंग ज्ञानचंदानी ने शनिवार को कहा कि डेरियस पुंडोले को ठीक होने के बाद कुछ दिन पहले छुट्टी दे दी गई थी, जबकि अनाहिता का अभी भी अस्पताल में इलाज चल रहा है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया Vnation के Facebook पेज को LikeTwitter पर Follow करना न भूलें...
Leave A Reply

Your email address will not be published.