एम्स, सफदरगंज और लोहिया अस्पताल के 100 से ज्यादा डॉक्टर संक्रमित

0 155

कोविड-19 महामारी की तीसरी लहर (Third Wave of covid19 in Delhi) आने की संभावना के बीच दिल्ली में काफी संख्या में डॉक्टरों और पैरा-मेडिकल कर्मियों के संक्रमित (Corona Positive Doctors) हो जाने से दिल्ली के स्वास्थ्य ढांचे (Medical Infrastructure) के सामने बड़ा संकट खड़ा हो सकता है.

अधिकारियों ने बताया कि राजधानी दिल्ली में अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (AIIMS) के कम से कम 50 डॉक्टर, जबकि सफदरजंग अस्पताल के 26 डॉक्टर के कोरोना वायरस (Corona Virus) से संक्रमित होने की पुष्टि हुई है. एक अधिकारी ने बताया कि राम मनोहर लोहिया (RML) अस्पताल के 38 डॉक्टर सहित 45 स्वास्थ्य कर्मी पिछले कुछ दिनों में कोरोना पॉजिटिव हुए हैं.

सूत्रों ने बताया कि उत्तरी दिल्ली नगर निगम द्वारा संचालित हिंदू राव अस्पताल के कम से कम 20 डॉक्टर संक्रमित हो गये हैं. वहीं, दिल्ली सरकार द्वारा संचालित लोकनायक जयप्रकाश (LNJP) अस्पताल की उप चिकित्सा अधीक्षक डॉ ऋतु सक्सेना ने कहा कि संस्थान के 7 चिकित्सक संक्रमित हुए हैं, उनमें से तीन को विशेष वार्ड में रखा गया है जबकि शेष घर पर क्वारंटीन किया गया है.

दिल्ली में 50 बेड से ज्यादा की क्षमता वाले सभी प्राइवेट हॉस्पिटल्स को 40% बेड कोरोना मरीजों के लिए रिजर्व करने होंगे. दिल्ली सरकार ने मंगलवार को इसे लेकर आदेश जारी किया है. वहीं, कोरोना महामारी से जूझ रही दिल्ली में डॉक्टरों का भी संकट खड़ा हो गया है. अधिकारियों ने बताया- अब तक एम्स के 50 और सफदरजंग हॉस्पिटल के 26 डॉक्टर कोरोना पॉजिटिव हो चुके हैं. कुछ वक्त पहले राम मनोहर लोहिया हॉस्पिटल में 38 डॉक्टरों समेत 45 हेल्थ वर्कर्स कोरोना संक्रमण की चपेट में आ गए थे

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया Vnation के Facebook पेज को LikeTwitter पर Follow करना न भूलें...
Leave A Reply

Your email address will not be published.