मुंह से बदबू आ रही है या हिल रहे हैं दांत, इन घरेलू उपायों से मिलेगी राहत

0 28

नई दिल्ली : मुंह हमारे शरीर का सबसे खास हिस्सा होता है और इस पर ही दूसरे अंगों का स्वास्थ्य भी काही हद तक निर्भर करता है. क्योंकि मुंह से हम भोजन करते हैं और अगर इसमें किसी तरह की बीमारी है तो इससे जाने वाले भोजन में बैक्टीरिया मिले जाएंगे और यह हमारे दूसरे अंगों को प्रभावित करेंगे. दूसरे अंगों की तरह ही मुंह की सफाई भी बेहद जरूरी है. कई बार लोगों को मुंह से स्मेल आने की समस्या होती है और यह इतना बढ़ जाती है कि यह हमारे दांत भीं इससे प्रभावित होने लगते हैं. अगर समय पर ध्यान न दिया जाए तो उम्र से पहले ही दांत गिर जाते हैं.

मुंह से स्मेल आना और दांतों का कमजोर होना कई वजहों से हो सकता है लेकिन,् यह ज्यादातर हमारे लाइफस्टाइल से जुड़ा हुआ होता है. स्मेल के अवाला मुंह से खून आना, मसूड़ों में पस बनना, दांतों में कैविटी होना आदि ये सभी समस्याएं हमारे दांतों के लिए तो हानिकारक हैं ही साथ ही यह पूरे शारीरिक स्वास्थ्य के लिए भी घातक है. इतना ही नहीं मुंह से बदबू आने पर कई बार दूसरों से बातचीत करना भी मुश्किल हो जाता है जो आपको शर्मसार करने लगता है.

मस्टर्ड ऑयल और नमक का प्रयोग: मस्टर्ड ऑयल और नमक मुंह से बदबू दूर करने में सबसे ज्यादा मददगार है. इसके लिए एक चम्मच मस्टर्ड ऑयल में चुटकी नमक मिलाएँ और इसके मिश्रण से दांतों पर मालिश करें. इससे आपके दांत चमकदार होंगे और साथ ही मसूड़ों की समस्या भी दूर होगी.

तुलसी की पत्तियां: तुलसी का जितना धार्मिक महत्व है उतना ही आयुर्वेदिक महत्व भी है. तुलसी कई तरह की बीमारियों हमारी मदद करती है. मुंह की बदबू को दूर करने के लिए तुलसी की पत्तियों को सुखा लें और अब इसका बारीक चूरन बना लें. अब इससे दांतो पर मंजन करें. इससे आपके मुंह से आने वाली बदबू दूर हो जाएगी. इसके अलावा तुलसी का मंजन पायरिया से भी राहत देगा.

साबुत फल खाएं: कड़क फल भी आपके दातों को मजबूत करने में मदद करते है. अगर आप डेली रूटीन में सेब, नाशपाती, बेर या फिर अमरूद जैसे कुछ टाइट फलों को सेवन करते हैं तो इससे आपको बहुत अधिक फायदा मिलेगे. इन फलों को चबाने से दांतों का व्यायाम होता है और लंबे समय तक दांत आपका साथ देंगे.

टूथ ब्रश की जगह नीम की दातून का प्रयोग करें: लगभग सभी लोग टूथ ब्रेश का इस्तेमाल करते हैं लेकिन यह हमारे दांतों और मसूड़ों के लिए हानिकारक होता है. यदि आप लंबे समय तक अपने दांतों को मजबूत और स्वस्थ्य रखना चाहते हैं तो टूथ ब्रेश की जगह दातून से दांतों को साफ करें. दातून से दांतों का बैक्टीरियल इंफेक्शन खत्म करने में मदद मिलती है.

सेंधा नमक और राई का तेल: अगर आपके दांत कम उम्र में ही हिलने लगे हैं तो सेंधा नमक और राई का तेल आपको राहत देगा. इसके लिए सेंधा और राई के तेल का पेस्ट बना लें और इसे रात को सोने से पहले दांतों पर लगाएं. इसके अतिरिक्त आप सेंधा नमक के साथ लौंग मिलाकर भी पेस्ट बना सकते हैं. इससे दातों के दर्द में आराम मिलेगा.

सौंफ का सेवन करें: कई बार पाचन शक्ति कमजोर होने की वजह से भी मुंह से बदबू आने लगती है. ऐसे में जरूरी है कि भोजन करने के बाद हर दिन एक चम्मच सौंफ का सेवन करें. सौंफ आपके डाइजेशन को भी ठीक करेगी और साथ ही मुंह से आने वाले बूदबू को दूर करेगी.

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया Vnation के Facebook पेज को LikeTwitter पर Follow करना न भूलें...
Leave A Reply

Your email address will not be published.