अखिलेश यादव और जयंत चौधरी के साथ लगाए गए राकेश टिकैत के पोस्टर, भाकियू ने किया विरोध

0 51

यूपी विधानसभा चुनाव (UP Assembly Election) में किसानों (Farmers) का मुद्द काफी अहम होने वाला है. किसान आंदोलन (Farmer Protest) ने वैसे भी इस को पहले की तुलना में काफी ज्यादा महत्वपूर्ण बना दिया है. किसान नेता राकेश टिकैत (Rakesh Tikait) की लोकप्रियता भी काफी है. इसी वजह से मेरठ में एनएच 58 पर अखिलेश (Akhilesh Yadav) और जयंत (Jayant Chaudhary) के साथ राकेश टिकैत के पोस्टर लगा दिए गए.

जानकारी के अनुसार पोस्टर पर लिखा गया है हार गया अभिमान, जीत गया किसान. पोस्टरों में अखिलेश यादव और आरएलडी नेता जयंत चौधरी दिख रहे हैं और बीच में तिरंगा लिए खड़े राकेश टिकैत हैं. अब इस पोस्टर को लेकर भारतीय किसान यूनियन ने बवाब काटा है. भकियू ने साफ किया है कि उनके नेता का पोस्टर राजनीतिक फायदे के लिए इस्तेमाल नहीं किया जा सकता. उनकी तरफ से इसे एक राजनीतिक स्टंट बता दिया गया है.

भकियू कार्यकर्ताओं का कहना है कि उन्होंने पोस्ट नहीं देखें हैं. लेकिन अगर ऐसे पोस्टर लगे हैं तो ये राजनीतिक स्टंट है. इनसे भकियू का कोई लेना देना नहीं है. कार्यकर्ताओं का कहना है कि सिर्फ किसान हित में काम करते हैं. अगर कोई वोट के लिए राकेश टिकैत का फोटो लगा रहा है तो ये अनुचित है क्योंकि उनका यूनियन अराजनैतिक है. वैसे इस विवाद पर अखिलेश यादव या फिर जयंत ने कोई प्रतिक्रिय नहीं दी है. राकेश टिकैत ने भी आगे आकर कोई बयान नहीं दिया है.

जानकारी के अनुसार कृषि कानूनों की वापसी के बाद यूपी गेट बार्डर पर एक साल से ज्यादा समय तक चला किसान आंदोलन खत्म हो गया है. वहीं, किसान नेता भी अपने घरों के लिए रवाना हो रहे हैं. इस दौरान आंदोलन के मेन चेहरा रहे भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत भी आज गाजीपुर बॉर्डर छोड़ देंगे. वहीं, किसान सुबह हवन करने के बाद राकेश टिकैत के नेतृत्व में फतेह मार्च निकालते हुए सिसौली के लिए रवाना होंगे. फतेह मार्च के लिए मंगलवार देर रात तक किसान आसपास के जिलों से यूपी गेट बार्डर पहुंचे.

भाकियू के मेरठ अध्यक्ष मनोज त्यागी ने बताया कि मेरठ के सिवाया टोल प्लाजा पर भी घर वापसी यात्रा का स्वागत किया जाएगा. ऐसे में मंगलवार को किसानों ने अपने तंबू खाली करना जारी रखा. जहां गाजीपुर की तरफ फ्लाईओवर के नीचे से जाने वाला रास्ता किसानों ने खाली कर दिया है. वहीं, दिल्ली पुलिस की बेरिकेडिंग हटते ही वाहनों के लिए रास्ता साफ हो जाएगा. इसके साथ ही इस लेन पर यातायात शुरू होने पर राजनगर एक्सटेंशन से यूपी गेट तक एलीवेटिड रोड पर भी यातायात चालू होने के आसार हैं. किसानों के तंबू खाली होने के साथ ही नगर निगम लगातार सफाई अभियान चला रहा है. निगम अधिकारियों का कहना है कि एक्सप्रेस वे को चालू करने से पूर्व सफाई भी जरुरी है इसलिए लगातार कर्मचारियों को लगाकर सफाई कराई जा रही है.

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया Vnation के Facebook पेज को LikeTwitter पर Follow करना न भूलें...
Leave A Reply

Your email address will not be published.