हाई प्रोटीन डाइट से किडनी डैमेज से लेकर कैंसर तक का खतरा, जाने इसके साइड इफेक्ट

0 81

नई दिल्ली: डाइट में प्रोटीन होना आवश्यक है। यह न्यूट्रिएंट मसल्स को रिपेयर करने के साथ अंगों और हड्डियों के विकास में मदद करता है। कई शोधों में इसे फैट घटाने, वजन कंट्रोल करने, भूख शांत करने वाला भी पाया गया है। प्रोटीन की कमी से कई सारे रोग हो सकते हैं।

कई सारे अमिनो एसिड मिलकर प्रोटीन बनाते हैं, जिसकी कमी से सूजन, खराब मूड, बेजान नाखून, बाल-त्वचा, थकान और कमजोरी, वजन बढ़ना, चोट ठीक ना होना, बार-बार बीमार पड़ना जैसे लक्षण दिखाई देने लगते हैं। लेकिन किसी भी अन्य चीज की तरह जरूरत से ज्यादा प्रोटीन भी खतरनाक होता है।

इन लोगों की किडनी कर देगा डैमेज
स्वस्थ लोगों में प्रोटीन का किडनी पर प्रभाव कोई खतरनाक प्रभाव नहीं देखा गया। लेकिन 2020 की एक स्टडी के अनुसार (ref.), जिन लोगों को पहले से ही गुर्दे की कोई बीमारी है, उनके लिए हाई प्रोटीन का अत्यधिक सेवन नुकसानदायक बताया है।

बिल्कुल खराब हो जाएंगे किडनी के फिल्टर
माना जाता है कि अमिनो एसिड में अत्यधिक नाइट्रोजन होता है, जिसे निकालने के लिए फिल्टर को काफी प्रेशर झेलना पड़ता है। इसके साथ प्रोटीन पचने के बाद निकले अपशिष्ट पदार्थों को भी बाहर करना होता है। जिसकी वजह से किडनी के फिल्टर कमजोर होने लगते हैं।

पेट को जकड़ लेगी कब्ज
कार्ब्स रहित हाई प्रोटीन डाइट में फाइबर की कमी भी होती है। जिसकी वजह से गट हेल्थ बिगड़ जाती है। ऐसी डाइट लेने पर बॉवल मूवमेंट कमजोर हो जाती है और पेट को कब्ज घेर लेती है।

डायरिया का खतरा
कुछ लोग चिकन, मछली जैसे प्रोटीन फूड्स को फ्राइड करके खाना पसंद करते हैं। इसके साथ डेयरी प्रॉडक्ट का इस्तेमाल भी पेट के लिए हानिकारक हो सकता है। जिसकी वजह से डायरिया का खतरा बढ़ जाता है।

ये नुकसान भी हो सकते हैं
कैंसर का खतरा
कमजोर हड्डियां
दिल की बीमारी
डिहाइड्रेशन
वजन बढ़ना
मुंह की बदबू

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया Vnation के Facebook पेज को LikeTwitter पर Follow करना न भूलें...
Leave A Reply

Your email address will not be published.