पं. दीन दयाल जी की प्रेरणा से ही हुआ ‘सबका साथ सबका विकास’ अवधारणा का जन्म : सीएम योगी

0 49

लखनऊ: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पंडित दीन दयाल उपाध्याय की 106वीं जयंती पर उन्हें श्रद्धासुमन अर्पित किए। अन्त्योदय के प्रणेता पंडित दीन दयाल उपाध्याय की प्रतिमा पर माल्यार्पण और पुष्पांजलि अर्पित करने के बाद अपने संबोधन में मुख्यमंत्री ने कहा कि पंडित जी ने एकात्म मानववाद के माध्यम से स्वतंत्र भारत में जीवन की वास्तविकताओं की ओर शासन का ध्यान आकर्षित किया था। आज उनका जन्मदिन है। इस अवसर पर यूपी शासन और जनता की ओर से भारत माता के इस महान सपूत को नमन करते हुए मैं विनम्र श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि आज पूरा देश अन्त्योदय के प्रणेता पं दीन दयाल उपाध्याय की जयंती के कार्यक्रम के साथ उनका स्मरण करते हुए, उस महामानव को अपनी विनम्र श्रद्धांजलि अर्पित कर रहा है। हम सब जानते हैं कि समाज के अंतिम पायदान पर बैठे व्यक्ति के लिए पंडित जी ने आजादी के बाद के पहले दशक में जो दर्शन दिया, वह आने वाले समय में सरकार की मार्गदर्शिका बन पायी। पंडित जी का स्पष्ट कहना था कि प्रगति का माप आर्थिक रूप से संपन्न या आगे की पंक्ति में बैठे व्यक्ति के आधार पर नहीं, बल्कि समाज के अंतिम पायदान पर बैठे व्यक्ति के माध्यम से की जानी चाहिए, इसके लिए उन्होंने अन्त्योदय की बात कही।

पंडित जी के सपने को पहली बार पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार ने साकार करना शुरू किया। उस वक्त हर गरीब को राशन उपलब्ध कराने के लिए अन्त्योदय अन्नपूर्णा और बीपीएल स्कीम के माध्यम से राशन की शृंखला हर गरीब तक पहुंचाने के लिए वृहद कार्यक्रम प्रारंभ हुए। गांव-गांव में विकास की प्रक्रिया को आगे बढ़ाने के लिए प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना और इन्फ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट के लिए स्वर्णिम चतुर्भुज जैसी परियोजनाओं को भारत ने अपने सामने साकार होते देखा।

इसके बाद नरेन्द्र मोदी सरकार ने पंडित जी और अटल बिहारी वाजपेयी के सपने को साकार करने का कार्य किया। उन्होंने सबका साथ सबका विकास के समग्र विकास की अवधारण को प्रस्तुत किया, जिसमें हर जरूरतमंद को सिर ढंकने के लिए छत मिल रही है। आजादी के बाद पहली बार चार करोड़ परिवारों को बिजली का कनेक्शन मिल पाया। पहली बार ढाई करोड़ परिवारों को प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ मिला। पहली बार 10 करोड़ गरीबों को शौचालय का लाभ मिला। इसके अलावा कोरोना जैसी आपदा के समय 80 करोड़ लोगों को फ्री में राशन मिला।

अब गरीब उपचार के आभाव में नहीं मरेगा, इसके लिए देश के 50 लाख लोगों को पांच लाख का सालाना स्वस्थ्य बीमा मोदी जी के नेतृत्व में भाजपा सरकार में ही मिला। ये सब इसलिए साकार हुआ क्योंकि हमारे प्रणेता पंडित जी ने हमें इस प्रकार की प्रेरणा दी है। समाज के अंतिम पायदान पर बैठे व्यक्ति के प्रति सरकार की संवेदनाओं को झकझोरने का जो कार्य उन्होंने पांचवें-छठवें दशक में किया था उसे साकार करने का कार्य अगर किसी ने किया किया है तो वह आज नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व की सरकार ही है।

इस अवसर पर प्रदेश के कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही, जलशक्ति मंत्री स्वतंत्र देव सिंह, कृषि राज्य मंत्री बदलेव सिंह औलख सहित अन्य नेतागण मौजूद रहे।

 

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया Vnation के Facebook पेज को LikeTwitter पर Follow करना न भूलें...
Leave A Reply

Your email address will not be published.