मुरादाबाद में मुस्लिम कैंडिडेट उतारेगी भाजपा, उपचुनाव में जीत की तैयारी तेज

0 68

मुरादाबाद : उत्तर प्रदेश में अब 10 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव की तैयारी तेज हो गई है। ये सीटें विधायकों के निधन या फिर उनके सांसद चुने जाने के चलते खाली हुई हैं। इनमें से ही एक सीट मुरादाबाद की कुंदरकी भी है, जो जिया उर रहमान के इस्तीफे से खाली हुई है। रहमान अब संभल लोकसभा सीट से सपा के सांसद हो गए हैं। इस बीच सूत्रों का कहना है कि भाजपा इस सीट से किसी मुस्लिम नेता को उतारने पर विचार कर रही है।

भाजपा सूत्रों के हवाले से टाइम्स ऑफ इंडिया ने अपनी रिपोर्ट में यह जानकारी दी है। रिपोर्ट के अनुसार फिलहाल मुस्लिम नेता के नाम पर मंथन चल रहा है। राज्य नेतृत्व इस पर विचार करेगा। इसके बाद संभावित नामों का एक पैनल केंद्रीय नेतृत्व के समक्ष विचार के लिए भेजा जाएगा। ऐसा हुआ तो 2019 के बाद यह पहला मौका होगा, जब यूपी में भाजपा किसी मुस्लिम नेता को टिकट देगी। इससे पहले मुख्तार अब्बास नकवी को पार्टी ने टिकट दिया था। वहीं 2024 के आम चुनाव में भाजपा ने यूपी समेत उत्तर भारत के किसी भी राज्य में मुस्लिम कैंडिडेट नहीं दिया था।

हालांकि केरल की मलप्पुरम लोकसभा सीट से कालिकट यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर अब्दुल सलाम को उतारा गया था, जिन्हें हार मिली है। वहीं उत्तर प्रदेश की बात करें तो भाजपा से 1998 में मुख्तार अब्बास नकवी रामपुर लोकसभा सीट से जीते थे। हालांकि अगले साल फिर जब 1999 में चुनाव हुए तो उन्हें कांग्रेस की नूर बानो के आगे हार का सामना करना पड़ा। यह उपचुनाव इसलिए भी अहम है क्योंकि हाल के लोकसभा चुनाव में यूपी में भाजपा को करारा झटका लगा है। ऐसी स्थिति में यह देखना अहम होगा कि विधानसभा उपचुनाव में जनता किसे समर्थन देती है। कुंदरकी के अलावा अयोध्या की मिल्कीपुर सीट पर भी उपचुनाव है। इसकी वजह यह है कि विधायक अवधेश प्रसाद अब फैजाबाद सीट से सांसद बन चुके हैं। इसके अलावा गाजियाबाद सदर की सीट पर भी उपचुनाव होना है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया Vnation के Facebook पेज को LikeTwitter पर Follow करना न भूलें...
Leave A Reply

Your email address will not be published.