बीमा क्लेम के पैसे के लिए बिजनेसमैन ने खुद चोरी करवाई अपनी एक करोड़ की ऑडी कार

0 37

लखनऊ (Lucknow)। यूपी की राजधानी लखनऊ (Lucknow) में ऑडी कार (Audi car) के मालिक ने खुद अपनी गाड़ी चोरी (steal your car) कर उसे चोर बाजार में बेचना चाहा, लेकिन उसके मंसूबे पर पुलिस ने पानी फेर दिया. यह मामला लखनऊ के विभूति थाने से जुड़ा हुआ है. यहां ऑडी कार के मालिक (Audi car owner) ने अपनी कार को चोरी कराने की साजिश रची. फिर विभूति खंड थाने जाकर गाड़ी चोरी हो जाने की एफआईआर दर्ज कराई, ताकि बीमा कंपनी में क्लेम कर पैसा (Claim money from insurance company) ले सके. उसने ऑडी को चोर बाजार में बेचकर वहां से भी पैसे हड़पने की तैयारी कर ली थी।

पुलिस ने ऑडी (Audi) चोरी होने की एफआईआर दर्ज होने के बाद मामले की तहकीकात शुरू की. इस दौरान गाड़ी मालिक अंकुर श्रीवास्तव के ऑफिस के आसपास लगे लगभग 150 से ज्यादा सीसीटीवी फुटेज खंगाले। इस दौरान पूरा सच सामने आ गया. पुलिस का कहना है कि ऑडी कार को कोई और नहीं, बल्कि गाड़ी मालिक अंकुर श्रीवास्तव ने ही अपने दोस्त हितेश के साथ मिलकर चोरी की प्लानिंग की थी. कार के मालिक अंकुर ने बीमा कंपनी से पैसे लेने के लिए यह साजिश रची थी।

दरअसल, बीते साल 2019 में अंकुर श्रीवास्तव की ऑडी का एक्सीडेंट हो गया था. इसके बाद वह ऑडी को बेचना चाहता था, लेकिन उसको सिर्फ इसके 10 लाख रुपये ही मिल रहे थे, जबकि उसकी ऑडी की कीमत एक करोड़ थी. इसी को लेकर उसने यह चोरी की प्लानिंग की, ताकि इंश्योरेंस कंपनी से भी पैसे ले सके और फिर जब बीमा कंपनी से पैसे मिल जाएं, इसके बाद वह ऑडी को चोर बाजार में बेचकर भी पैसे ले सके।

पूरे मामले को लेकर डीसीपी ने क्या बताया?
डीसीपी ईस्ट लखनऊ प्रबल प्रताप सिंह ने बताया कि चोरी का केस बीते 27 तारीख को थाना विभूति खंड में दर्ज कराया गया था. इसमें निर्माण निगम में काम करने वाले अंकुर श्रीवास्तव, जोकि असिस्टेंट ग्रेड 2 के पद पर कार्यरत हैं, इनकी ऑडी कार चोरी की सूचना दी गई थी, जिसको बरामद कर लिया गया है. जिसने यह गाड़ी चोरी की थी, वह खुद गाड़ी का मालिक अंकुर श्रीवास्तव था।

अंकुर के साथ इनका एक दोस्त हितेश भी था, जो अभी फरार है. ऑडी कार की कीमत बाजार में एक करोड़ रुपये है, लेकिन 2019 में इस गाड़ी का एक्सीडेंट हो गया था. इसके बाद गाड़ी की कीमत काफी घट गई. गाड़ी मालिक अंकुर श्रीवास्तव पूर्व में बिजनेसमैन रहा है. जब वह गाड़ी बेच रहा था तो उसको इसकी सही कीमत नहीं मिल रही थी।

गाड़ी मालिक अंकुर ने खुद चोरी करके कार को चोर मार्केट में बेचना चाहा, साथ ही इंश्योरेंस कंपनी से भी पैसे लेने चाहे. फिलहाल अंकुर को गिरफ्तार कर लिया गया है.एक मुजलिम हितेश फरार है, जिसकी जल्द से जल्द गिरफ्तारी की जाएगी।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया Vnation के Facebook पेज को LikeTwitter पर Follow करना न भूलें...
Leave A Reply

Your email address will not be published.