रूस के राष्ट्रपति पुतिन जी-20 शिखर सम्मेलन में नहीं लेंगे हिस्सा

0 31

जकार्ता : रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन (Vladimir Putin) यूक्रेन युद्ध पर अमेरिका और उसके सहयोगियों के साथ संभावित टकराव से बचने के लिए इंडोनेशिया में अगले सप्ताह होने वाले जी-20 शिखर सम्मेलन में हिस्सा नहीं लेंगे। इंडोनेशियाई सरकार के एक अधिकारी ने बृहस्पतिवार को यह जानकारी दी। अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन (Joe Biden), चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग सहित कई वैश्विक नेता 15 नवंबर से इंडोनेशिया की राजधानी बाली में शुरू हो रहे दो दिवसीय शिखर सम्मेलन में शिरकत करेंगे।

रूस द्वारा इस साल फरवरी अंत में यूक्रेन पर हमला करने के बाद पहली बार बाइडन और पुतिन किसी विश्व मंच पर साथ आने वाले थे। इंडोनेशिया के राष्ट्रपति जोको विडोडो इस साल जी-20 शिखर सम्मेलन की अध्यक्षता कर रहे हैं। जी-20 के ‘चीफ ऑफ सपोर्ट’ लुहुत बिनसर पंडजैतन ने सुरक्षा अधिकारियों से मिलने के बाद देनपसार में पत्रकारों से कहा, ‘‘ आधिकारिक तौर पर इसकी जानकारी दी गई है कि रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन जी-20 शिखर सम्मेलन में शिरकत नहीं करेंग और उच्च स्तरीय अधिकारी प्रतिनिधित्व करेंगे।

पुतिन ने पहले ही राष्ट्रपति जोको विडोडो को फोन पर इस फैसले के बाबत जानकारी दे दी थी।” पंडजैतन ने कहा, ‘‘ रूस का यह फैसला हम सभी के लिए सही और हमारे हित में है।” उन्होंने पहले बताया था कि रूस के विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव रूसी प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व करेंगे। पंडजैतन को पुतिन के यह फैसला करने के पीछे की वजह के बारे में कोई जानकारी नहीं है, हालांकि उन्होंने कहा, ‘‘ शायद राष्ट्रपति पुतिन को अपने देश में कुछ काम होगा और हमें भी इसका सम्मान करना चाहिए।” पंडजैतन ने कहा कि शायद इसी वजह से ही यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की ने भी अपने देश में रहने का फैसला किया है।

विडोडो इस साल की शुरुआत में यूक्रेन की राजधानी कीव तथा रूस की राजधानी मॉस्को गए थे और दोनों नेताओं को शांति बहाल करने के लिए बाली में मुलाकात करने के लिए मनाने की कोशिश की थी। अभी जी20 की अध्यक्षता इंडोनेशिया कर रहा है और उसके बाद भारत इसे संभालेगा। जी-20 दक्षिण पूर्व एशिया में इस सप्ताह और उसके बाद होने वाले तीन शिखर सम्मेलनों में सबसे बड़ा है। दक्षिण पूर्वी एशियाई राष्ट्र संघ (आसियान) सम्मेलन बृहस्पतिवार को कंबोडिया के नोम पेन्ह में शुरू हुआ। जी-20 शिखर सम्मेलन इंडोनेशिया की राजधानी बाली और एशिया-प्रशांत आर्थिक सहयोग शिखर सम्मेलन (एपीईसी) थाईलैंड की राजधानी बैंकॉक में होगा। अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन आसियान और जी-20 शिखर सम्मेलन में शिरकत करेंगे, जबकि अमेरिका की उपराष्ट्रपति कमला हैरिस एपीईसी में देश का प्रतिनिधित्व करेंगी।

बाइडन के बाली में चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग से मुलाकात करने की भी संभावना है। इससे पहले बाइडन ने जी-20 शिखर सम्मेलन से इतर पुतिन के साथ बैठक करने से इनकार कर दिया था। उन्होंने कहा था कि वह रूसी नेता से केवल रूस में बंद अमेरिकियों की रिहाई पर ही चर्चा कर सकते हैं। बाइडन प्रशासन के अधिकारियों ने कहा कि पुतिन के ऑनलाइन माध्यम से शिखर सम्मेलन में शामिल होने पर वे विश्व नेताओं से उन्हें अलग-थलग करने का आह्वान करेंगे। उन्होंने बहिष्कार या अन्य तरीके से उनकी निंदा करने पर भी चर्चा की है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया Vnation के Facebook पेज को LikeTwitter पर Follow करना न भूलें...
Leave A Reply

Your email address will not be published.