मंगलवार को तुलसी के पत्तों का ये उपाय बनाएगा करोड़पति!, जमकर बरसेगी हनुमान जी की कृपा

0 84

जीवन में कई बार व्यक्ति को दुखों से भरे समय का सामना करना पड़ता है. ऐसे में व्यक्ति भगवान की शरण में जाता है. ताकि उसका ये मुश्किल समय आसानी से कट सके. ज्योतिष शास्त्र में ऐसी ही समस्याओं के लिए मंगलवार के दिन कुछ टोटकों के बारे में बताया गया है. इन टोटकों को करने से हनुमान जी की कृपा प्राप्त होती है. साथ ही कुंडली में मौजूद कमजोर ग्रहों की अशुभ प्रभावों को दूर किया जा सकता है. आइए जानते हैं ऐसे ही कुछ टोटकों के बारे में, जिन्हें करने से व्यक्ति को शुभ फलों की प्राप्ति होती है.

अगर कोई जातक लंबे समय से किसी बीमारी से परेशान है, तो हनुमान जी की प्रतिमा के सामने एक पात्र रख दें. इसके बाद हनुमान बाहुक का 26 या 21 दिन तक लगातार पाठ करें. पाठ करने के बाद पात्र में रखे जल को ग्रहण करने से बीमारी से लाभ होगा.

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार मंगलवार के दिन अगर सच्चे मन से बजरंगबाण का पाठ किया जाए, तो जातक को शत्रुओं पर विजय प्राप्त होती है. लेकिन बता दें कि बजरंगबाण का पाठ 21 दिन तक एक जगह पर बैठकर किया जाता है. 21 दिन तक अनुष्ठान करने से ही इसका लाभ होता है. साथ ही, जब इस पाठ को करने का संकल्प लें उससे पहले सच्चाई के मार्ग पर चलने का संकल्प लेना चाहिए.

अगर किसी जातक की कुंडली में मंगल कमजोर स्थिति में हैं, तो इसके लिए बंदरों को या लाल रंग की गाय को भुने हुए चने खिलाएं. इससे लाभ होगा. शास्त्रों के अनुसार लाल गाय को गुड़ खिलाने से सूर्य देव प्रसन्न होते हैं.

शास्त्रों के अनुसार जिन जातकों पर हनुमान जी की कृपा होती है. उन्हें शनि देव और यमराज कुछ नहीं कहते. ऐसे में शनि के प्रकोप से बचने के लिए मंगलवार के दिन हनुमान मंदिर जाएं. साथ ही, इस दिन हनुमान चालीसा और सुंदरकांड का पाठ करें.

मंगलवार के दिन हनुमान जी को तुलसी के पत्तों की माला बनाकर अर्पित करने से लाभ होगा. तुलसी के 108 पत्ते लें और उसकी माला बना लें और हनुमान मंदिर जाकर बजरंगबली को अर्पित कर दें. इससे मंगल के अशुभ प्रभाव दूर होते हैं और शनि देव की कृपा प्राप्त होता है.

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया Vnation के Facebook पेज को LikeTwitter पर Follow करना न भूलें...
Leave A Reply

Your email address will not be published.